माध्यमिक शिक्षक संघ की बैठक:प्रखंड इकाई कोष का गठन कर स्वेच्छा से सहयोग राशि जमा करें

शंभूगंज21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शंभूगंज में माध्यमिक शिक्षक संघ की बैठक में उपस्थित शिक्षक । - Dainik Bhaskar
शंभूगंज में माध्यमिक शिक्षक संघ की बैठक में उपस्थित शिक्षक ।
  • शिक्षकों को संगठन से जोड़ने पर बल

प्रखंड क्षेत्र के उच्च विद्यालय शंभूगंज परिसर में शनिवार को बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ बांका प्रखंड इकाई शंभूगंज की बैठक संघ के प्रखंड अध्यक्ष ज्योत्सना सिंह की अध्यक्षता में की गई। बैठक में क्षेत्र के उच्च विद्यालय के सभी प्रभारी प्रधानाध्यापक एवं संघ के सदस्य भी उपस्थित थे। बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि प्रत्येक उच्च विद्यालय के शेष शिक्षकों को संगठन से जोड़ने, प्रखंड इकाई का कोष का गठन कर स्वेच्छा से सहयोग राशि देने, सभी उच्च विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक एवं शिक्षकों का एक व्हाट्स एप ग्रुप बनाने, प्रखंड इकाई का बैनर बनाने, बकाया वेतन एवं अंतर वेतन भुगतान के लिए यथाशीघ्र सूचित करने, आगामी बैठक की सूचना व्हाट्स एप ग्रुप में देने आदि पर चर्चा किया गया। इस मौके पर सचिव संजय यादव, सुनिल कुमार झा, पंकज कुमार सिंह, मनोज कुमार, राम बहादुर सिंह, रजनीश आनन्द, शैलेन्द्र कुमार, गोविंद शर्मा, मुकेश कुमार वर्मा, मनोज कुमार दीपक, मनीष कुमार, मो सगीर आलम, संतोष कुमार, दिलीप कुमार सहित अन्य थे।

स्कूल की दीवार गिरे रहने से हो रही परेशानी

पंजवारा| चार साल पूर्व बरसात के मौसम में मुसलाधार बारिश होने के चलते उत्क्रमित मध्य विद्यालय पचटकिया की चहार दीवारी गिर गई थी। हालांकि दीवार की नींव कमजोर हो जाने के चलते एक ओर पहले से ही आधा झुका हुआ था। जर्जर हालत में रहने के कारण मुसलाधार बारिश से दीवार गिर पड़ा था। दीवार गिर जाने से स्कूल पूरी तरह से असुरक्षित हो गयी है।

उपप्रमुख ने आंगनबाड़ी व स्कूल का किया निरीक्षण

धोरैया | प्रखंड उपप्रमुख जुबैदा खातून ने शनिवार को प्रखंड के अहिरो पंचायत के बेलाटीकर तथा बंदरचुहा विद्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के उपरांत उपप्रमुख ने बताया कि बेलाटीकर स्कूल में सुबह साढ़े सात बजे तक भी विद्यालय में शिक्षक भी नहीं पहुंचे थे। उपप्रमुख ने अपने सामने करीब 8 बजे विद्यालय के बच्चों को प्रार्थना करने के लिए कहा, लेकिन बच्चे प्रार्थना करना भी नहीं जानते थे। बाद में पहुंचे शिक्षक द्वारा उपप्रमुख व पंचायत समिति सदस्यों के समक्ष प्रार्थना कराई। इसके अलावा बंदरचूहा विद्यालय में शिक्षक व बच्चे उपस्थित पाए गए। उपप्रमुख ने स्कूल की खराब स्थिति पर चिंता जताई। कहा कि उनके द्वारा निरीक्षण अभियान लगातार जारी रहेगा ताकि शिक्षा व्यवस्था में सुधार हो सके। इसके अलावा उपप्रमुख ने आंगनबाड़ी केंद्र का भी जायजा लिया।आंगनबाड़ी केंद्र पर सेविका सहायिका नहीं थी, जबकि मात्र 2 बच्चे ही सुबह साढ़े सात बजे पाए गए। केंद्र में शौचालय की स्थिति भी सही नहीं पाई गई।

खबरें और भी हैं...