मनोरंजन के साथ जानकारी:मोटू-पतलू ने बच्चों को बताया-अधिक गर्मी के वक्त में धूप में बाहर निकलने पर लू लगने का खतरा

बछवाड़ा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्राथमिक विद्यालय बेगमसराय अनुसूचित में छात्रों को लू से बचने के तरीके बताते शिक्षक। - Dainik Bhaskar
प्राथमिक विद्यालय बेगमसराय अनुसूचित में छात्रों को लू से बचने के तरीके बताते शिक्षक।

बिहार के सभी सरकारी विद्यालयों में विभिन्न प्रकार के आपदा से बचाव हेतु एक वार्षिक कैलंडर बनाया गया है। जिसके तहत बच्चों को समय-समय पर आपदा, आपदा के कारण एवं इससे बचाव की जानकारी दी जा सके। इसी क्रम में बछवाड़ा प्रखंड के रानी दो पंचायत स्थित प्राथमिक विद्यालय बेगमसराय अनुसूचित में प्रधानाध्यापिका संध्या कुमारी के द्वारा एक वर्ग कार्यक्रम आयोजित किया गया।

इस दौरान बच्चों के बीच लोकप्रिय कार्टून मोटू-पतलू के माध्यम से बच्चों को लू, लू लगने का कारण एवं उससे बचाव के बारे में बताया गया। कक्षा में अपने बीच मोटू-पतलू को पाकर बच्चे भी हर्षित दिखे एवं शिक्षकों के द्वारा बताई जा रही बातों को दिलचस्पी से सुन व समझ रहे थे। वर्ग कार्यक्रम के दौरान मोटू-पतलू ने बच्चों को बताया कि अधिक धूप और गर्मी के समय में धूप में बाहर निकलने पर लू लगने का खतरा बना रहता है। अगर लू लग जाये तो लोग बीमार पड़ जाते हैं।

लू लगने से बचने के लिए हमें अधिक से अधिक पानी पीना चाहिए। साथ ही जब कभी बाहर निकलें तो अपने साथ पानी, और छाता जरुर रखें। कार्यक्रम की शुरुआत में बच्चों ने कक्षा में ताली के साथ मोटू-पतलू का स्वागत किया। इस अवसर पर प्रधानाध्यापिका संध्या कुमारी ने बताया कि इसके लिए विद्यालयों में एक फोकल शिक्षक नामित किया जाता है जो कि प्रत्येक शनिवार को बच्चों को आपदाओं से बचाव के बारे में बताते हैं। इसे सुरक्षित शनिवार कहते हैं।

खबरें और भी हैं...