मौसम:20 किलोमीटर की रफ्तार से चली आंधी मटिहानी में ठनका गिरने से एक की मौत

बेगूसरायएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तेज आंधी के कारण नारियल के पेड़ से टूटकर गिरने लगे छज्जे। - Dainik Bhaskar
तेज आंधी के कारण नारियल के पेड़ से टूटकर गिरने लगे छज्जे।

गुरुवार को 41 डिग्री तापमान होने के बाद दोपहर बाद आई तेज आंधी और हल्की बारिश के कारण तापमान में गिरावट महसूस किया गया। आंधी और हल्की बारिश के कारण भले ही चढ़ते तापमान पर ब्रेक लग गई, लेकिन इस दौरान व्रजपात होने से एक की मौत भी हो गई। जबकि दीवार गिरने से एक व्यक्ति घायल हो गया। करीब 20 किलोमीटर की रफ्तार से चली धूल भरी आंधी के कारण कुछ समय के लिए रफ्तार पर भी ब्रेक लग गया। इस दौरान लोग जहां तहां छिपकर खड़े हो गए। हालांकि करीब पांच मिनट बाद स्थिति सामान्य हो गई।

आज भी छाए रह सकते हैं बादल गर्मी से राहत नहीं : मालूम हो कि 20-22 मई तक तेज हवा के साथ ही हल्की बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार वर्षा होने की संभावना 21 मई को अधिक है। इस दौरान अधिकतम तापमान 35-37 डिग्री के बीच रह सकता है।

28 मई को तापमान में होगी बढ़ोरतरी
जबकि न्यूनतम तापमान 25-27 डिग्री के बीच रह सकता है। पूर्वानुमान के तहत इस दौरान औसत 15-20 किलोमीटर की रफ्तार से हवा चलने का भी अनुमान है। 20 मई को अधिकतम और न्यूनतम तापमान में 1 डिग्री की कमी की संभावना जताई गई है। हालांकि 23 मई से 28 मई तक तापमान में वृद्धि की भी संभावना जताई गई है।

रामदीरी के लभरचक गांव में वज्रपात

मटिहानी प्रखंड के रामदीरी लभरचक में गुरूवार को वज्रपात के चपेट में आने से भुट्टू रजक की 50 वर्षीय पत्नी की मौत हो गई। मृतका बिढ़नी देवी रामदीरी चैसारिया दियारा से काम करके घर वापस लौट रही थी। घर लौटने के दौरान जब वह लभरचक महावीर स्थान के पास पहुंची तभी आंधी और तूफान तेज रफ्तार से बढ़ने लगी और वर्षा के साथ बिजली छिटकने लगा इस दौरान जैसे ही वह तेजी से अपने घर की ओर भागी इसी बीच वज्रपात हुआ और वह उसके चपेट में आ गई। जिससे मौके पर ही मौत हो गई।

शरीर पर रेलिंग गिरने से एक बच्ची हुई घायल

आंधी के कारण शाम्हो में गुरूवार को कई घरों की दीवार गिर गई। सोनबरसा पीपरपाती के 60 वर्षीय रामदेव यादव के शरीर पर पीपल का पेड़ गिरने से गंभीर रूप से जख्मी हो गए। जबकि सरलाही ग्राम के नरेश सिंह उर्फ पटेल जी की पोती के शरीर पर रेलिंग गिर जाने से वाह गंभीर रूप से जख्मी हो गई। जानकारी के अनुसार आंधी के दौरान रामबालक यादव बहियार में एक पीपल के पेड़ के नीचे बारिश से बचने के लिए बैठे थे इसी दौरान पीपल की एक डाली उनके शरीर पर गिर गया और वह गंभीर रूप से जख्मी हो गए।

खबरें और भी हैं...