शहर हुआ जलमग्न तो जागा निगम:सड़क की खुदाई बंद, अब केवल होगा मरम्मत कार्य, पावर हाउस व जीडी काॅलेज पीपरा की सड़क आरसीडी बनाएगी

बेगूसरायएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बारिश के बाद शहर में जल जमाव का नजारा। - Dainik Bhaskar
बारिश के बाद शहर में जल जमाव का नजारा।

मानसुन के सक्रिय होने से पहले केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह केवल गरज कर रह गए। डीएम भी मानसून से पहले निर्माण कार्य पूरा करने का निर्देश देकर रुक गए। स्थिति यह हुई कि पहली ही तेज बारिश में शहर पानी पानी हो गया। अब जब भारी बारिश के बाद शहर की स्थिति बदली तब जाकर नगर निगम और जिला पदाधिकारी सक्रिय हुए। डीएम रोशन कुशवाहा ने जल निकासी की समस्या को देखते हुए पूर्व मध्य रेल सोनपुर को रेलवे क्रासिंग संख्या 45सीई अयोध्या बाड़ी के निकट ह्यूम पाईप लगाने को लेकर पत्र लिखा है। जिसके बाद सांसद राकेश सिन्हा ने भी डीआरएम से बात कर रेलवे लाइन के पार रहने वाले लोगों को जलजमाव से मुक्ति दिलाने महमदपुर के पास रेलवे लाइन के नीचे ह्यूम पाइप लगाने के अनुमति देने की अपील की। वहीं अबतक आवश्वासन देने वाले नगर आयुक्त ने कहा है कि दो से तीन दिनों में शहर की सभी टूटी सड़कों का रेस्टोरेशन कर दिया जाएगा। जबकि अगले दो से तीन दिनों में खराब सड़कों को भी चलने लायक बना दिया जाएगा। साथ ही जुलाई महीने में सभी सड़कों का पूर्ण रेस्टोरेशन करने का आवश्वासन भी दिया है।
डीएम ने मंडल रेल प्रबंधक को लिखे पत्र में कहा है कि बेगूसराय नगर निगम क्षेत्र की जल निकासी एनएच 31 के उत्तर रेलवे के गड्ढे से होकर होती है। शहर के विस्तारीकरण ओर बढ़ती जनसंख्या के कारण शहर से काफी मात्रा में पानी का नाले में बहाव होता है। इस वर्ष भी मानसून प्रवाह रहने की संभावना है, जिस कारण शहर में जल-जमाव हो सकता है। डीएम ने रेल प्रबंधक से कहा है कि पिछले वर्ष भी वार्ड 28 में जल-जमाव की समस्या हो गई थी। इसलिए उक्त ह्यूम पाईप का लगाना आवश्यक है। वहीं डीएम के लिखे पत्र के बाद राज्य सभा सांसद ने भी इस मामले को लेकर पहल की है। साथ ही मंडल रेल प्रबंधक से बात कर इस समस्या को दूर करने के लिए जल्द ही आवश्यक कदम उठाने की बात कही।
बचे हुए काम काे पूर्ण करने के लिए अब मानसून के बाद शुरू होगा सिवरेज का काम

रतनपुर से हेमरा चौक की तरफ जाने वाली सड़क का भी जल्द शुरू होगा कार्य
शहर की सबसे खराब सड़क रतनपुर से हेमरा जाने वाली सड़क के निमार्ण का कार्य भी अब इसी बरसात में शुरू होगा। पहले इस सड़क को चलने लायक बना दिया जाएगा। इसके बाद इसके निर्माण का कार्य प्रारंभ होगा। नगर आयुक्त ने बताया कि दो दिन पहले ही इस सड़क के निमार्ण का कार्य शुरू किया गया था। लेकिन बुधवार को बारिश के कारण अब यह काम बंद हो गया है। अब बारिश के थमते ही निर्माण कार्य शुरू होगा। इसी प्रकार एसएच 55 पर मिलन चैक से आगे की धंसी सड़के भी बारिश के थमते ही बनाया जाएगा। नगर आयुक्त ने बताया कि अभी केवल चलने के लिए इसे बनाया गया है। अब इस पर लेयर और चढ़ाया जाएगा।

सभी क्षतिग्रस्त सड़कों को चलने लायक बनाया जाएगा
बरसात के शुरू होने के साथ ही शहर में अब सीवरेज का काम बंद कर दिया गया है। नगर आयुक्त अब्दुल हामिद ने बताया कि अब सीवरेज के बचे हुए काम को पूरा किया जाएगा। इसके लिए पहले खोदी गई सड़कों को चलने लायक बनाया जाएगा। इसके बाद धीरे-धीरे सभी सड़कों का रेस्टोरेशन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि हर-हर महादेव चौक से आगे खोदी गई सड़कों की ढ़लाई का काम किया जाएगा। इसी प्रकार पनहांस चौक से मुफ्फसिल थाना तक की सड़कों को भी बनाया जाएगा। वहीं पावर हाउस रोड में आरसीडी द्वार बचे हुए सड़क को पूरा बनाया जाएगा। जबकि जीडी काॅलेज से पीपरा की ओर जाने वाली सड़क को भी आरसीडी विभाग द्वारा इसी बरसात में पूर्ण कर दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...