बगहा में नीलगाय का रेस्क्यू ऑपरेशन:5 घंटे तक चला अभियान, जेसीबी के सहयोग से निकाली गई

बगहा (वाल्मिकीनगर)15 दिन पहले
5 घंटे तक चला रेस्क्यू ऑपरेशन

बगहा के जंगल और दियारा से भटककर एक नीलगाय कुंआ में आकर गिर गई। बगहा के बड़गांव पंचायत के एकडेरवा गांव में नीलगाय की झुंड से भटककर गांव के बीच स्थित कुंआ में आकर गिरने के बाद फंस गई। स्थानीय लोगो ने आवाज के आधार पर नीलगाय को कुंआ में गिरा पाया गया। ग्रामीणों ने बहुत प्रयास किया, लेकिन नीलगाय बाहर नहीं निकल सकी ।

वन विभाग ने चलाया रेस्क्यू ऑपरेशन

वहीं सूचना के बाद वन विभाग ने रेस्कयू ऑपरेशन चलाकर घण्टों मशक्कत के बाद जेसीबी के सहारे खुदाई कर नीलगाय को आज़ाद कराया। बगहा रेंजर सुनील कुमार ने बताया कि नीलगाय की गिरने की सूचना लोगों के द्वारा प्राप्त हुआ। जिसके बाद वन विभाग और स्थानीय लोगों के सहयोग से सफलता पूर्वक रेस्क्यू कर छोड़ दिया गया है। रेस्क्यू करने के लिए जेसीबी को लगाया गया। रेस्क्यू करने में तकरीबन 5 घंटे का समय लगा। 5 घंटे कड़ी मशक्कत के बाद नीलगाय का रेस्क्यू किया गया। इसके लिए कुंवा के बगल में एक गड्ढा खोदा गया। कड़ी मशक्कत के बाद आखिरकार नीलगाय को बचाया जा सका।

वायरल हो रहा है वीडियो

नीलगाय का निकालते हुए वीडियो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वन विभाग के इस पहल को लोग सराह रहे हैं। बताया जा रहा है कि कुआं समतल था। जिसके कारण नीलगाय को दिखाई नहीं दिया होगा। इसी क्रम में कुआं में गिर गई। हालाकी आवाज सुनकर स्थानीय किसान खुद ही नीलगाय को निकालने का प्रयास किया। जब स्थानीय स्तर पर रेस्क्यू नहीं हुआ तो वन विभाग को इसकी सूचना दी गई। सूचना पर पहुंची वन विभाग की टीम के वन कर्मी रस्सी के सहारे नीलगाय का रेस्क्यू करने में जुट गए। हालांकि इसके बावजूद भी रिसीव नहीं हो सका। जिसके बाद जेसीबी से गड्ढा खोद कर रेस्क्यू किया गया।