बगहा में बाढ़ से पूर्व तैयारी:जल शक्ति मंत्रालय के प्रतिनिधियों ने किया मसान नदी का निरीक्षण

बगहा (वाल्मिकीनगर)2 महीने पहले

मसान नदी से हर साल होने वाली भयंकर तबाही से त्रस्त क्षेत्रवासियों के बचाव के लिए वाल्मीकिनगर सांसद सुनील कुमार ने लोकसभा में यह मुद्दा उठाया। जिसको लेकर विभाग के द्वारा पहल शुरु कर दी गई है। शुक्रवार को जल शक्ति मंत्रालय भारत सरकार द्वारा जीएफसीएल के चेयरमैन सीकेएल दास के नेतृत्व में एक उच्च स्तरीय अभियंताओं की टीम द्वारा मसान नदी का ठोड़ी-कुट्टी से लेकर तेलपुर तक लगभग 45 किलोमीटर का क्षेत्र निरीक्षण किया गया।

इसमें चेयरमैन के साथ अभियंताओ ने भाग लिया। इस दौरान टीम ने उक्त पंचायत के मसान नदी पर पूर्व से निर्मित बांध का मुआयना किया। ये टीम बाढ़ से बचाव आदि के सुझावों को की एक रिपोर्ट तैयार कर जल संसाधन विभाग को सौंपेगी। जिससे आपदा से निबटने में सहूलियत होगी।

अभियंताओं के निरीक्षण के उपरांत क्षेत्रवासियों को सार्थक कार्रवाई की उम्मीद
बताते चलें कि प्रत्येक वर्ष बरसात के दिनों में मसान के निकटवर्ती गांवों में भारी जलजमाव की स्थिति नजर आती है। बरसात पूर्व ही गांव के लोग अपने घरों में ताला लगा कर अपने रिश्तेदारों के यहां या फिर उँचे स्थानों पर जाकर दो-तीन महीने के लिए गुजर बसर करने को मजबूर हो जाते हैं। ऐसे में अभियंताओं के निरीक्षण के उपरांत क्षेत्रवासियों को सार्थक पहल की उम्मीद नजर आ रही है।

खबरें और भी हैं...