पब्जी गेम से शुरू हुई दोस्ती, मौत पर जाकर रुकी:मृतक के गले पर गेहूं का भूसा लगा था, पुलिस के लिए यही बनी चुनौती

बगहा (वाल्मिकीनगर)3 महीने पहले

बगहा के नारईपुर में ऑनलाइन पबजी गेम खेलने से शुरू हुई दोस्ती मौत पर जाकर रुक गई। बताया जाता है कि मृतक साहिल का घर नारईपुर पोखरा के पास है। वहीं, पोखरा के किनारे आरोपी का तबेला है। वहीं दोनों मिलते थे। हालांकि, आरोपी इस साल मैट्रिक में पढ़ाई कर रहा है। जबकि साहिल इस साल 8वीं पास कर 9वीं में एडमिशन कराया था। दोनों के एज में 3 साल का गैप था। इसके बावजूद पब्जी गेम से दोनों की दोस्ती हो गई। स्थानीय लोग बताते हैं कि दोनों पोखरा पर बैठकर कभी-कभी पब्जी गेम खेलते थे। वहीं, सभी साथ में क्रिकेट भी खेलते थे।

बगहा में मोबाइल के लिए दोस्त ने गला रेता

दरअसल, आरोपी ने मोबाइल के लिए साहिल का गला रेत दिया। नाबालिग हाथ से गला पकड़कर एक किलोमीटर दूर दौड़कर अपने घर पहुंचा। गले से निकलते खून देखकर परिवार के होश उड़ गए। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसने बेड और हाथ पर कातिल का नाम लिखा। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

पूरे दिन साक्ष्य जुटाने में लगी रही पुलिस

बगहा पुलिस को गुरुवार की रात में जैसे ही इस घटना की सूचना मिली। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू कर दी। पुलिस नदी के किनारे पूरे दिन साक्ष्य जुटाने में जुटी रही। जबकि अब तक हत्या में प्रयोग किया गया हथियार और जगह का पता पुलिस नहीं लगा पाई है। फिलहाल पुलिस ने आरोपी को बाल सुधार गृह भेज दिया है। इसके साथ ही मामले की जांच कर रही है।

साहिल के गर्दन पर लगा भूसा बना रहस्य

साहिल भाग कर अपने घर आया था। उस समय उसके गले पर गेहूं का भूसा लगा हुआ था। अब यह भूसा पुलिस के लिए चुनौती बन गई है। फिलहाल सभी बिंदुओं पर पुलिस गहनता से जांच कर रही है। इधर, साहिल के परिवार वाले आरोपी को जल्द से जल्द सजा देने की मांग कर रहे हैं। वहीं आरोपी ने बताया कि साहिल से दिन में ऑर्केस्ट्रा देखने की बात हुई थी। नगर के पठखौली में ऑर्केस्ट्रा आया था। उसी में देखने जाने के लिए साहिल को बुलाने गया था, लेकिन साहिल नहीं मिला था।