भास्कर खास:नरकटियागंज विस के 50 सरकारी स्कूलाें में बनेगी लाइब्रेरी

बेतियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रधानाध्यापक से मांगी गई पुस्तक की सूची, विधायक फंड के 8 लाख रुपए से हाेगा काम

नरकटियागंज विधानसभा क्षेत्र स्थित सरकारी विद्यालयों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को लेकर विधायक ने सराहनीय पहल की है। विधायक फंड से नरकटियागंज विधानसभा के 50 विद्यालयों में पुस्तकालय की व्यवस्था की जाएगी। पुस्तकालय के पुस्तक की खरीदारी को लेकर विधायक ने 8 लाख की फंडिंग की है। विधायक रश्मि वर्मा ने प्रखंड के 16 उच्च विद्यालय में पुस्तकालय के लिए पुस्तक खरीदारी को लेकर 4 लाख दिया है। उक्त विद्यालयों में पुस्तकालय की खरीदारी को लेकर प्रत्येक विद्यालय में 25 हजार उपलब्ध कराने की बात कही है। यह राशि मुख्यमंत्री क्षेत्र विकास योजना से नरकटियागंज के सरकारी विद्यालय में पुस्तकालय के विकास के लिए तथा पुस्तक के मध्य में खर्च की जाएगी।

उच्च विद्यालय नरकटियागंज के लिए 25 हजार रुपए से पुस्तकों की खरीदारी करनी है

सभी स्कूलों के लिए राशि निर्धारित

विधायक रश्मि वर्मा ने नरकटियागंज स्थित विद्यालय के छात्र-छात्राओं के शैक्षणिक संस्थानों में ज्ञानोपार्जन एवं उनके बौद्धिक विकास को लेकर पुस्तक की खरीदारी के लिए विद्यालयों में अलग-अलग राशि निर्धारित तय की गई है। इसमें उच्च विद्यालय नरकटियागंज के लिए 25 हजार रुपए की लागत से पुस्तकों की खरीदारी करनी है। इसी प्रकार मतिसरा कुंअर उच्च विद्यालय, रेलवे प्रवेशिका उच्च विद्यालय समेत केहूनिया, साठी, मथुरा व लौरिया, सुगौली राजपुर मदन, मानवा परसी समेत 16 विद्यालयों में 25-25 की राशि उपलब्ध कराने की बात कही गई है। वहीं मध्य विद्यालय सुगौली, बनवारिया, बेलवानिया, गोपालपुर, बरवा, महुआवा, बनवरिया, शिकारपुर, दिउलिया मध्य विद्यालय में 10-10 हजार की देने की बात पत्र में कही गई है।

डीईओ ने बीईओ को भेजा पत्र
मुख्यमंत्री विकास योजना अंतर्गत नरकटियागंज विधायक रश्मि वर्मा ने राजकीय शैक्षणिक संस्थानों में अनुशासित पुस्तकों के क्रय एवं आपूर्ति के लिए अनुशंसा की थी। जिसके आलोक में डीईओ के नेतृत्व में जिला मुख्यालय में 23 मई को एक बैठक भी की गई। इसके बाद डीईओ की ओर से नरकटियागंज प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी के नाम से एक पत्र जारी किया गया। जिसमें मुख्यमंत्री क्षेत्र विकास योजना अंतर्गत राजकीय शैक्षणिक संस्थानों में पुस्तकों की सूची उपलब्ध कराने की बात कही गई है। संस्थान में विगत 2 वर्षों में सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना अंतर्गत मुख्यमंत्री क्षेत्र विकास योजना मद से पुस्तकों की आपूर्ति नहीं हुई थी एवं संस्था शासकीय अथवा सहायता प्राप्त हो।

खबरें और भी हैं...