पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पहल:टीकाकरण की जागरूकता के लिए बाइक से मोहराघाट गांव पहुंचे डीएम

अलौली16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बाइक चलाकर मोहराघाट जाते डीएम, साथ में अन्य प्रशासनिक टीम। - Dainik Bhaskar
बाइक चलाकर मोहराघाट जाते डीएम, साथ में अन्य प्रशासनिक टीम।
  • अलौली के ग्रामीण इलाकों में बाइक चलाकर लोगों को किया जागरूक

प्रखंड प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की टीम अधिक से अधिक लोगों को टीका लगाए इसके मद्देनजर जिलाधिकारी डॉ. आलोक रंजन घोष ने रविवार को अलौली प्रखंड में कोविड टीकाकरण सत्र स्थल के निरीक्षण करने पहुंचे। इस दौरान वे अलौली प्रखंड के सुदूर इलाके कोसी नदी पार कर ग्रामीण इलाकों में बाइक चलाकर रविवार को चेराखेरा पंचायत के मोहराघाट पहुंचें। जहां टीकाकरण हेतु शिविर लगाकर उन्होंने लोगों को जागरूक किया। जिलाधिकारी ने इस दौरान कई जगह पर कोविड टीकाकरण सत्र स्थल का निरीक्षण किया। वहीं वे लोगों को कोविड महामारी के बचाव की जानकारी देने के अलावा टीका लगाने के लिए जागरूक भी किया। इस बावत जिलाधिकारी ने कहा कि जिले में कोविड टीकाकरण किया जा रहा है, उन्होंने लोगों से टीका लगवाने की अपील के साथ कोविड की रोकथाम के लिए सरकार के नियम को पालन भी करने का लोगों से अपील की। मोहराघाट से लौटने के बाद ज्वालापुर के ग्रामीणों के द्वारा जिलाधिकारी के साथ अन्य पदाधिकारी को गाड़ी को रोक लिया, जिसके बाद ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से गुहार लगाया कि मेघौना पंचायत के वार्ड नंबर 22 और 23 में अभी तक टंकी नहीं लगाया गया और न ही दोनों वार्ड में पाइपलाइन बिछाया गया है। ज्वालापुर में नल जल याेजना का पानी नहीं पहुंचने से लोगों में आक्रोश देखने के बाद जिलाधिकारी ने आश्वासन दिया कि इस पर जरूर ध्यान दिया जाएगा और उन्होंने कहा कि सरकारी जमीन हो या गैर सरकारी जमीन जहां भी संभव हो वहां जल नल योजना के तहत पानी टंकी का निर्माण जरूर किया जाएगा। इस मौके पर डीडीसी अभिलाषा शर्मा, सदर एसडीओ धर्मेन्द्र कुमार, सिविल सर्जन डॉ अजय कुमार सिंह के अलावा स्थानीय बीडीओ, सीओ एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

वाहन व मास्क जांच चलाकर वसूला 2250 रुपए जुर्माना

महेशखूंट | कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर प्रभावी लॉकडाउन के उल्लंघन के आरोप में वाहन एवं मास्क जांच अभियान चलाकर महेशखूंट पुलिस के द्वारा जुर्माना के रूप में 2250 रुपए वसूला गया। लॉकडाउन का शत प्रतिशत पालन कराने के उद्देश्य से थाना परिसर के सामने रविवार को वाहन जांच एवं मास्क जांच अभियान चलाया गया। लॉकडाउन उल्लंघन के मामले में दो वाहन चालकों से जुर्माने के तौर पर पंद्रह सौ रुपए वसूले गए जबकि सड़कों पर आवाजाही करने वाले लोगों के द्वारा मास्क नहीं लगाए जाने के आरोप में तकरीबन 15 लोगों से 50 रुपए प्रति लोगों की दर से कुल 750 रुपए जुर्माना के रूप में वसूला गया। महेशखूंट थानाध्यक्ष ने बताया कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने के आरोप में वाहन चालक पकड़े जाएंगे तो उन्हें दंडित किया जाएगा। वहीं सड़कों पर आवाजाही करने वाले लोगों को जागरूक करते हुए बताया कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए अनावश्यक आवाजाही न करें और घर से बाहर निकलने पर मास्क का जरूर उपयोग करें।

खबरें और भी हैं...