पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राहत:हरिश्चंद्र सिंह के साथ पूरा परिवार था संक्रमित, सात दिन घर में रह हुए ठीक

अलौलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना को मात देने वाले 70 वर्षीय हरिश्चंद्र सिंह। - Dainik Bhaskar
कोरोना को मात देने वाले 70 वर्षीय हरिश्चंद्र सिंह।
  • बोले-दिन में तीन से चार बार भाप, गलगला और डॉक्टर की दवा ली

अलौली प्रखंड के अम्बा इचरूवा पंचायत निवासी 70 वर्षीय हरिश्चंद्र सिंह और उनकी धर्म पत्नी 66 वर्षीय जानकी देवी कोरोना संक्रमित होने के बाद घर में रहकर ही एक सप्ताह में कोरोना को मात दी। उन्होंने बताया कि मेरे साथ परिवार के चार लोग संक्रमित थे। जिसमें मेरा और मेरी पत्नी की परेशानी ज्यादा होने पर हॉस्पिटल में भर्ती कराना चाह रहे थे, लेकिन बिना घबराए मैंने घर पर ही रह कर कोरोना संक्रमण को परास्त करने का निर्णय लिया। बताते चलें कि बीमार पड़ने के बाद बुखार के साथ सूखी खांसी होने लगी तो उन्होंने अपने पूरे परिवार के साथ एक मई को रैपिड एंटीजन टेस्ट कराए तो परिवार के 4 सदस्य पॉजिटिव पाए गए। कोरोना पॉजिटिव होने के बाद हरिश्चंद्र की तबीयत कुछ ज्यादा बिगड़ने लगी। चिकित्सक की सलाह पर सभी संक्रमित दिन में तीन- चार बार भाप लेने लगे और गर्म पानी में सेंधा नमक हल्दी डालकर गलगला भी करने लगे। चिकित्सीय सलाह पर पांच दिन की दवा का खुराक लिए। इसके बाद जब जांच कराई तो रिपोर्ट निगेटिव आई। उन्होंने बताया कि अब परिवार के सभी सदस्य स्वस्थ हैं।

खबरें और भी हैं...