पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्यक्रम:‘हिंदी भाषा भारतीय संस्कृति और परंपरा की पहचान है’

अमरपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हिन्दी दिवस पर उपस्थित अधिकारी व कर्मी। - Dainik Bhaskar
हिन्दी दिवस पर उपस्थित अधिकारी व कर्मी।
  • प्रखंड कार्यालय परिसर में बीडीओ राकेश कुमार के नेतृत्व में मनाया गया हिंदी दिवस

अमरपुर प्रखंड कार्यालय परिसर में बीडीओ राकेश कुमार के नेतृत्व में बड़े ही हर्षोल्लास के साथ हिन्दी दिवस मनाया गया। इस मौके पर मौजूद कर्मियों को संबोधित करते हुए बीडीओ ने कहा कि लंबे समय की गुलामी के बाद सन् 1947 ई० में देश को आजादी मिली। देश की आजादी के बाद 14 सितंबर सन् 1949 में संविधान सभा में एकमत से हिंदी भाषा को राजभाषा घोषित किया गया था। तब से 14 सितंबर के दिन हिंदी दिवस पूरे देश में मनाई जाने लगी। पूरे विश्व में हिन्दी को चौथी भाषा है लेकिन आज के युवा वर्ग अपने राजभाषा को भूलकर अंग्रेजी भाषा बोलने में अपनी शान समझते हैं। राजभाषा हिन्दी ने स्वतंत्रता संग्राम से लेकर भारत के नव निर्माण तक देशवासियों को एकता के सूत्र में बांधने का काम करते हुए भारत को लोकतांत्रिक तरीके से मजबूत बनाने में अहम भूमिका निभाई है। हिन्दी भाषा भारतीय संस्कृति, परम्परा एवं संस्कारों की पहचान है। यह सिर्फ राजभाषा ही नहीं बल्कि हमारी पहचान है। मौके पर उन्होंने मौजुद कर्मियों से हिन्दी भाषा को अधिक से अधिक उपयोग में लाने का संकल्प दिलाया। इस अवसर पर प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी हिमांशु शेखर, तकनीकी सहायक बमबम कुमार, सुधांशु कुमार, ब्रजेश कुमार, सविता कुमारी, एकाउंटेंट प्रगति कुमारी, मो. सुल्तान, काजल कुमारी, रविन्द्र कुमार, शौचालय समन्वयक धीरज कुमार समेत प्रखंड कार्यालय के अन्य कर्मी उपस्थित थे।

बच्चों के बीच हिंदी दिवस पर विस्तृत जानकारी दी
बौंसी|एमके पब्लिक स्कूल में हिन्दी दिवस के उपलक्ष्य पर दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत स्कूल के चैयरमेन राजीव कुमार सिंह उर्फ राजू सिंह ने किया। प्रधानाचार्य निजात खान ने बच्चों के बीच हिन्दी दिवस पर विस्तृत जानकारी दी और बच्चों के बीच निबंध प्रतियोगिता का आयोजन करवाया। प्रतियोगिता में खुशी, सोनल, जयंती, अंशु, गौरव, नीतीश आदि बच्चों ने भाग लिया।

खबरें और भी हैं...