पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सजा सुनाई:दुष्कर्म के आरोपी को 10 साल सश्रम कारावास, 10 हजार का जुर्माना, आरोपी 2016 से है जेल में

अररिया12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश षष्टम सह विशेष न्यायाधीश पोस्को अधिनियम अररिया शशिकांत राय की न्यायालय ने नाबालिग का अपहरण कर दुष्कर्म के बाद वीडियो वायरल करने के आरोपी को दस साली की सश्रम कारावास और 10 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई। सजा न्यायालय ने विशेष पोस्को वाद संख्या 16/2016 में सुनाई है।

दोषी करार दिए गए या मोहम्मद मुसब्बर उर्फ़ मुस्बीर पिता मोहम्मद अफजल जोकीहाट के गम्हरिया गांव का रहने वाला है। उसे न्यायालय ने भारतीय दंड संहिता की धारा 366(आ), 376 और पोस्को अधिनियम की धारा -14(2) के अंतर्गत दोषी करार पाया है। मामला जोकीहाट थाना कांड संख्या-281/2016 से संबंधित है। पीड़ित लड़की के पिता ने 10 लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज कराई थी।

जिसमें पुलिस ने अनुसंधान कर दोषी मुसब्बिर उर्फ मुसब्बर के विरुद्ध आरोप पत्र न्यायालय में विचारण हेतु समर्पित किया था। शेष अन्य के विरुद्ध अनुसंधान अब तक जारी है। दोषी व्यक्ति शादीशुदा हैं। जिसने 11 सितंबर को नाबालिग पीड़िता का अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म किया और उसका वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। दोषी वर्ष 2016 से ही जेल में है। मुकर्रर की गई सजा उसके कारावास में बिताए गए अवधि में समायोजित की जाएगी।

खबरें और भी हैं...