परेशानी:39 पैक्स को अब तक राइस मिल से नहीं किया गया टैग, खरीद में परेशानी

अररिया10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • छह पैक्स ने शुरू नहीं किया क्रय केंद्र, चार पैक्स खानापूर्ति के लिए खरीदे सिर्फ एक-दो किसानों का धान

जिले में धान अधिप्राप्ति कार्य शुरू हुए दो माह होने वाला है, लेकिन अब भी सुचारू रूप से शुरू नहीं हो पाया है। ऐसा क्योंकि जिले में अब भी 39 पैक्स ऐसे हैं जिसे किसी भी राइस मिल से अग्रिम सीएमआर के लिए संबद्ध (टैग) नहीं किया गया है। राइस मिल से टैग नहीं होने के कारण इन पैक्स में अधिप्राप्ति कार्य प्रभावित हो रही है। राशि का सही तरीके से रोटेशन नहीं हो पा रहा है। मिल में टैग नहीं किये जाने से इनके पैक्स अध्यक्ष काफी नाराज हैं। पैक्स अध्यक्ष मो. शमीम, सिकंदर, मुर्शिद आलम सहित अन्य अध्यक्ष मिल टैग के लिए कार्यालय का चक्कर लगा रहे हैं। पैक्स अध्यक्ष मो. सिकन्दर ने बताया कि उन्हें अधिप्राप्ति कार्य शुरू करने थोड़ी सी देर हुई तो ऑफिस से स्पष्टीकरण मांग लिया गया, लेकिन मिल टैगिंग में देरी होने पर वैसे अधिकारी चुप क्यों हैं। किसानों का धान समय पर नहीं ले पा रहे हैं। इस संबंध में पूछे जाने पर डीसीओ मिथिलेश कुमार ने बताया कि 33 मिल से 176 पैक्स का टैगिंग हो चुका है। शेष 39 पैक्स का भी जल्द ही मिल से टैगिंग कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि एक उसना राइस मिल को एनओसी नहीं मिल पाया है। उसी के इंतजार में देरी हो रही है। सप्ताह के अंदर एनओसी नहीं मिला तो अन्य राइस मिल से शेष बचे पैक्स को टैग कर दिया जाएगा।

12 डिफॉल्टर पैक्स को अधिप्राप्ति प्रक्रिया से रखा गया दूर
धान अधिप्राप्ति के लिए 218 पैक्स और नौ व्यापार मंडल में से 215 पैक्स व व्यापार मंडल को चयनित किया गया है। जबकि 12 डिफॉल्टर पैक्स को अधिप्राप्ति प्रक्रिया से दूर रखा गया है। ऐसे पैक्सों को बगल के पैक्सों से संबद्ध किया जाएगा। अधिप्राप्ति के लिए चयनित पैक्सों में छह ऐसे पैक्स हैं जो अब तक किसानों से धान लेना शुरू नहीं किया है जबकि चार पैक्स महज खानापूर्ति के लिए एक-दो किसानों से धान खरीद किया है। इन पैक्स में खरीददारी नहीं होने के बारे में जिला सहकारिता पदाधिकारी मिथिलेश कुमार ने बताया कि इसमें कुछ ऐसे पैक्स है जो डिफॉल्टर हैं। पूर्व का बकाया इन पैक्सों के पास है। जिसे शपथ पत्र देने के बाद अधिप्राप्ति की अनुमति दी गयी है, जल्द ही इन पैक्सों में खरीददारी शुरू होगी।

लक्ष्य का 55 प्रतिशत हो चुकी खरीद
धान अधिप्राप्ति के लिए इस बार जिले को 89 हजार एमटी का सांकेतिक लक्ष्य मिला है। 15 नवंबर 2021 से 15 फरवरी 2022 तक किसानों से धान की खरीद होगी। अब तक 57 सौ 18 किसानों से 49 हजार 2.69 एमटी धान की अधिप्राप्ति हुई है, जो लक्ष्य का 55 प्रतिशत है। वहीं पैक्स और व्यापार मंडल ने 3683 एमटी अग्रिम सीएमआर संबद्ध राइस मिल से प्राप्त किया है। जबकि 3335 एमटी सीएमआर एसएफसी में जमा करा दिया है। अग्रिम सीएमआर के एवज में एजेंसियों ने 5984.90 एमटी धान राइस मिल को दिया है।

जिले में एक उसना और 32 अरवा राइस मिल चल रहे
जिला में अभी एक उसना व 32 अरवा राइस मिल कार्यरत है। 176 पैक्स व व्यापार मंडल समिति को इन सभी मिल से टैग कर दिया गया है। चयनित शेष 39 पैक्स का टैगिंग नहीं हो पाया है। एक उसना मिल के एनओसी का वेट कर रहे हैं, एनओसी मिलने पर जल्द ही बचे पैक्स को उससे टैग कर दिया जाएगा।
मिथिलेश कुमार, डीसीओ, अररिया

खबरें और भी हैं...