जायजा:बनकर तैयार है 6 बेड का आईसीयू, अबतक नहीं लगा एसी

अररिया8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डीएम ने अधिकारियों संग किया आईसीयू का निरीक्षण, जल्द से जल्द एसी लगाने के निर्देश

पीएम केयर फंड की राशि से जिले सदर अस्पताल में छह बेड का आईसीयू बनाया गया है। लेकिन अबतक उसमें न तो एसी लग पाया है और न ही अबतक फ्लोवर बेड लगा है।ऐसी बात नहीं कि बेड नहीं है,पर आईसीयू में जो होना चाहिए वह नहीं है।यही नहीं इन मशीनों को ऑपरेट करने के लिए तकनीशियन की भी तैनाती नहीं हुई है।इसका खुलासा तब हुआ जब सोमवार को डीएम प्रशांत कुमार सीएच ने सदर अस्पताल पहुंचकर आईसीयू का जायजा लिया।उन्होंने अबतक एसी नहीं लगने पर चिंता जताई और सीएस को आवश्यक निर्देश दिए गए।डीएम के साथ निरीक्षण में सीएस डॉ. एमपी गुप्ता, डीपीएम रेहान अशरफ भी थे। जबकि इस वक्त प्रभारी अधीक्षक डॉ. राजेश कुमार,डॉ. कुमार जितेंद्र भी उपस्थित थे। डीएम ने कोविड-19 संक्रमण के मद्देनजर सदर अस्पताल में बने छह बेड वाले आइसोलेशन वार्ड के निरीक्षण के दौरान वार्ड में उपलब्ध सुविधा, प्रशिक्षित कर्मियों की उपलब्धता सहित अन्य तकनीकी पहलूओं को लेकर जिला पदाधिकारी द्वारा संबंधित पदाधिकारियों से जरूरी जानकारी ली गई। जिला पदाधिकारी द्वारा आइसोलेशन वार्ड को और अधिक सुविधा संपन्न व बेहतर बनाने के लिये स्वास्थ्य अधिकारियों को कई जरूरी दिशा निर्देश दिए गए।निरीक्षण के क्रम में जिलाधिकारी द्वारा कोरोना संक्रमित मरीजों की सुविधा के लिये संचालित जिला नियंत्रण कक्ष पहुंचे। जहां उपलब्ध कर्मियों की संख्या, विशेषज्ञ चिकित्सकों की उपलब्धता सहित अन्य मामलों की पड़ताल की गई। साथ ही कर्मियों को ईमानदारी पूर्वक अपने कर्तव्यों के निवर्हन के लिये प्रोत्साहित किया गया। निरीक्षण क्रम में ही आईसीयू वार्ड का संचालन शीघ्र शुरू कराने का निर्देश दिए। इसके उपरांत पत्रकारों को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा अररिया सदर अस्पताल में छह बेड का आईसीयू वेंटिलेटर इंस्टॉल कराया गया है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच संक्रमित मरीजों को आपातकालीन सेवाएं उपलब्ध कराने के लिहाज से ये महत्वपूर्ण है। साथ ही इसके माध्यम से गंभीर रोग व दुर्घटना प्रभावित लोगों को आपात कालीन स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराना भी आसान होगा। निरीक्षण के क्रम में जल्द से जल्द इसका संचालन सुनिश्चित कराने को लेकर सिविल सर्जन एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिये गये हैं। सदर अस्पताल स्थित आईसीयू आने वाले दिनों में जिलावासियों के लिये वरदान साबित होगा। इसके माध्यम से लोगों को आपातकालीन स्वास्थ्य सेवाएं सदर अस्पताल में उपलब्ध हो सकेगा।

खबरें और भी हैं...