सफलता:दूसरे प्रयास में आशीष ने बीपीएससी परीक्षा में हासिल किया 23वां रैंक

अररिया9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ननिहाल में रहकर आशीष ने की पढ़ाई, परिवार में खुशी का माहौल

आगे बढ़ने का जोश और जज्बा हो तो पहाड़ भी उसके रास्ते रोक नहीं सकता। आशीष आनंद पहले प्रयास में बीपीएससी परीक्षा में सफल हुए, लेकिन रैंक कम होने के बाद उन्होंने दूसरी बार परीक्षा दी और इस बार वह बिहार में 23वां रैंक लाकर अपने घर वालों के साथ ननिहाल का नाम ऊंचा कर दिया। 25 वर्षीय आशीष आनंद अपने ननिहाल में रहकर पढ़ाई की। उनके नाना रासमोहन झा व्यवहार न्यायालय के वरिष्ठ वकील है। मामा डॉ. कुमार आनंद प्रसिद्ध हड्डी रोग सर्जन हैं। आशीष पूर्व में भी 64वीं प्रतियोगिता परीक्षा में भी सफलता के झंडे लहराए हैं। उस प्रतियोगिता परीक्षा में उनका स्थान 323वां था। आशीष के पिता अरुण देव झा कटिहार में शिक्षक के पद है। उनकी माता मिली झा कुशल गृहणी है।

खबरें और भी हैं...