कार्यक्रम:सरकारी कार्यालयों में दी जा रही है फाइलेरिया की दवा

अररिया9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जीविका कर्मियों ने सामूहिक रूप से खाई दवा

जिले को फाइलेरिया रोग से मुक्त करने के उद्देश्य से 20 सितंबर से एडीएम यानि सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम का संचालन किया जा रहा है। पल्स पोलियो अभियान के क्रम में अभियान को बीच में रोकना पड़ा। लिहाजा 26 से 30 सितंबर के बीच जिले में एमडीए कार्यक्रम का संचालन नहीं हो सका। दोबारा 4 अक्टूबर से जिले में एमडीए कार्यक्रम के दूसरे चरण की शुरुआत हो चुकी है। अभियान के तहत 6.5 लाख घरों का भ्रमण करते हुए 32 लाख लोगों का दवा खिलाने का लक्ष्य निर्धारित है। जानकारी अनुसार अब तक अभियान के तहत जिले में 12 लाख से अधिक लोगों को दवा का सेवन कराया जा चुका है। इसी क्रम में स्वास्थ्य कर्मी विभिन्न सरकारी कार्यालयों में पहुंच कर कर्मियों को फाइलेरिया रोग संबंधी जानकारी देते हुए उन्हें दवा का सेवन करा रहे हैं। जीविका कर्मियों को खिलायी गयी दवा सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम के तहत गुरुवार को जीविका कर्मियों को फाइलेरिया रोग से संबंधित जानकारी दी गयी। पीसीआई के डिवीजन कॉर्डिनेटर गौरव कुमार ने बताया कि फाइलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम के तहत साल में एक बार सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम का संचालन किया जाता है।

खबरें और भी हैं...