तैयारी:प्रतिदिन 10 हजार लोगों की कोविड जांच का लक्ष्य

अररिया13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एनआईसी में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में शामिल सीएस व अन्य। - Dainik Bhaskar
एनआईसी में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में शामिल सीएस व अन्य।
  • डीडीसी की अध्यक्षता में हुई संबंधित विभागीय अधिकारियों की बैठक, दिए गए जरूरी आदेश

जिले में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़ कर 24 पर जा पहुंचा है। संक्रमण के सभी मामले जनवरी माह में ही सामने आये हैं। लिहाजा आने वाले दिनों में संक्रमण के मामलों में वृद्धि की संभावना बनी हुई है। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की सक्रियता काफी बढ़ गयी है। टीकाकरण मामले में तेजी लाने के साथ कोरोना जांच में तेजी लाने को लेकर सभी जरूरी प्रयास किये जा रहे हैं। इसे लेकर गुरुवार की शाम उप विकास आयुक्त मनोज कुमार की अध्यक्षता में विशेष बैठक का आयोजन समाहरणालय स्थित विश्वान भवन में किया गया। बैठक में संक्रमण के अद्यतन स्थिति की गहन समीक्षा की गयी। साथ ही इस पर प्रभावी नियंत्रण को लेकर कई जरूरी दिशा निर्देश दिये गये। बैठक में सिविल सर्जन डॉ एमपी गुप्ता, एसीएमओ डॉ राजेश कुमार, डीआईओ मो मोईज, डीपीएम जीविका अनुराधा चंद्रा, डीईओ राजकुमार, डीएमएनई सभ्यशांची पंडित, सभी बीडीओ, बीईओ सहित अन्य अधिकारियों ने भाग लिया। बैठक में डीडीसी मनोज कुमार ने कहा कि बढ़ते संक्रमण के मामलों को देखते हुए विशेष एहतियाती उपाय पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि संक्रमण से बचाव को लेकर आम लोगों को जागरूक करने संबंधी प्रयासों में तेजी लाये जाये।

15 से 18 साल के युवाओं के टीकाकरण में लाये तेजी
तीन जनवरी से जिले में 15 से 18 साल के युवाओं के टीकाकरण को लेकर संचालित अभियान में जिले के प्रदर्शन पर असंतोष जाहिर करते हुए टीकाकरण में तेजी लाने को कहा। उन्होंने कहा कि युवाओं के टीकाकरण को लेकर 8 जनवरी को विशेष अभियान के सफल संचालन को लेकर अधिकारियों को निर्देशित किया। डीईओ राजकुमार ने बैठक में बताया कि अभियान की सफलता के लिये सभी विभागीय अधिकारी व संबंधित प्रधानाध्यापकों को जरूरी निर्देश दिये गये हैं। स्कूली शिक्षकों को बच्चों को प्रेरित करते हुए उनका टीकाकरण सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया है।

टीकाकरण कियोस्क पर होगा जांच का इंतजाम
सिविल सर्जन डॉ एमपी गुप्ता ने कहा कि बढ़ते संक्रमण को देखते हुए व्यापक पैमाने पर जांच अभियान के संचालन का निर्देश स्वास्थ्य अधिकारियों को दिया। उन्होंने कहा कि भीड़-भाड़ वाले इलाके, बाजार व व्यस्ततम चौक चौराहों पर जांच की सुविधा उपलब्ध करायी जाये। इसके लिये स्थानीय प्रशासन से सहयोग लिया जा सकता है। ओपीडी व इमरजेंसी में आने वाले तमाम मरीजों का प्राथमिकता के आधार पर कोविद जांच का निर्देश उन्होंने दिया। उन्होंने कहा कि बिना मास्क के अस्पतालों में आम लोगों को वर्जित रखा जाये।

खबरें और भी हैं...