नेपाल बैंक लूट कांड के तार बिहार से जुड़े:8 बदमाशों में से 6 भारतीय, 3 गिरफ्तार; बैंक के गार्ड को गोली मार लूटे थे 21 लाख 70 हजार रुपए

​​​​​​​अररिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लूट कांड को अंजाम देकर भाग रहे बदमाशों में से तीन को नेपाल पुलिस ने सोमवार को ही गिरफ्तार कर लिया। - Dainik Bhaskar
लूट कांड को अंजाम देकर भाग रहे बदमाशों में से तीन को नेपाल पुलिस ने सोमवार को ही गिरफ्तार कर लिया।

नेपाल के कर्सिया में सोमवार को सिटीजन बैंक में हुए 21.70 लाख रुपए लूट कांड का कनेक्शन भारत के सीमाई इलाकों से जुड़ गया है। बैंक लूट कांड को अंजाम देने वाले 8 बदमाशों में से तीन को गिरफ्तार कर लिया गया है। इनमें से दो अररिया और एक नेपाल का रहने वाला है। वहीं, पुलिस ने फरार 5 बदमाशों में से 4 के भारतीय होने का दावा किया है। बदमाशों ने बैंक के गार्ड को गोली मारकर वारदात को अंजाम दिया था। गार्ड का इलाज जारी है।

गिरफ्तार बदमाशों में अररिया के शिवपुरी का सुनील यादव (32), नरपतगंज गोड़राहा का विजय बहरदार (35) और नेपाल बिराटनगर के वार्ड संख्या 3 का मुनाल पथ निवासी श्याम मुखिया शामिल है।

घटना के खुलासे के लिए नेपाल के मोरंग जिला पुलिस ने एक विशेष पुलिस टीम का गठन किया है। मोरंग पुलिस के प्रवक्ता और पुलिस उप अधीक्षक दीपक श्रेष्ठ ने बताया कि बैंक लूट कांड में फरार 5 में से एक नेपाली और चार भारतीय हैं। नेपाली पुलिस ने भारतीय पुलिस की मदद से फरार चल रहे बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए भारतीय सुरक्षा एजेंसी से समन्वय स्थापित किया है।

बदमाशों ने बैंक के सुरक्षा गार्ड शीतल कुंवर को गोली मारकर घायल कर दिया था।
बदमाशों ने बैंक के सुरक्षा गार्ड शीतल कुंवर को गोली मारकर घायल कर दिया था।

8 बदमाशों ने सोमवार को कर्सिया स्थित सिटीजन बैंक के सुरक्षा गार्ड शीतल कुंवर को गोली मारकर घायल कर दिया था। इसके बाद काउंटर पर हमला कर 21 लाख 70 हजार रुपए लूट फरार हो गए थे। इसमें नेपाली पुलिस ने भाग रहे बदमाशों में से 3 को उसी दिन नेपाल-भारत की सीमा के पास से गिरफ्तार किया था। इनके पास से नेपाल पुलिस ने एक देसी कट्टा भी बरामद किया था। नेपाल पुलिस की ओर से गिरफ्तारी के क्रम में भाग रहे बदमाशों पर फायरिंग भी की गई थी, जिसमें विजय बहरदार की जांघ में गोली लगी और वह घायल हो गया। पुलिस ने इनके पास से नेपाल नंबर की एक पल्सर बाइक भी बरामद की है।

इधर, नेपाल में बैंक लूटकांड में गिरफ्तार विजय बहरदार के बारे में नरपतगंज थानाध्यक्ष शैलेश पांडेय ने बताया कि यह एक कुख्यात अपराधी है। विजय कई आपराधिक मामले में पहले भी जेल जा चुका है और इन दिनों एक हत्याकांड के मामले में फरार चल रहा था। इसे नरपतगंज पुलिस भी तलाश कर रही थी।

खबरें और भी हैं...