पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विरोध:पुलिस के दुर्व्यवहार से हड़ताल पर गए सफाईकर्मी

अररियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ड्यूटी के दौरान पुलिसकर्मियों ने की थी सफाईकर्मी की गाड़ी जब्त, थाने में भी की बदसलूकी

पुलिस दुर्व्यवहार के खिलाफ नगर परिषद के सफाई कर्मी गुरुवार से हड़ताल पर चले गए हैं। सफ़ाई कर्मियों की हड़ताल से शहर की साफ-सफाई ठप पड़ गया है। महज एक दिन में ही जगह-जगह कचरे का अंबार लगने लगा है। गुरुवार को सुबह में डोर टू डोर कचरा का भी उठाव नहीं हो सका। हड़ताल पर जाने से रात्रिकालीन सफाई भी आज से ठप हो जाएगा। सफाई प्रभारी संतोष कुमार ने बताया कि कोरोनाकाल में शहर को साफ रखने के लिए वे लोग दिन-रात मेहनत करते हैं। ताकि कोरोना का प्रभाव कम हो सके। सरकार के गाइडलाइन में भी वे लोग फ्रंट वर्कर के रूप में हैं। लेकिन कुछ पुलिस कर्मियों की वजह से उनलोगों को सफाई व्यवस्था ठप करना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि बुधवार को वे लोग सफाई कर्मियों को लेकर चांदनी चौक के आसपास सफाई कराने जा रहे थे। इसी क्रम में चौक पर कुछ पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोका और बाइक की चाभी छीन ली। उन्होंने लाख विनती की कि वे लोग नगर परिषद के कर्मी हैं औऱ सफाई का काम कराते हैं। लेकिन पुलिसवालों ने उनकी एक नहीं सुनी और बाइक जब्त कर थाना लेकर चला गया। थाना पर जब वह अपनी बाइक लेने गया तो वहां भी उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया। सफाई प्रभारी ने बताया कि जब वे लोग कोरोना काल में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं तब भी पुलिसकर्मियों से अपमानित होना पड़ता है तो ऐसी स्थिति में उनलोगों के लिए काम करना सम्भव नहीं है। सफाई प्रभारी का कहना है कि इस घटना की पूरी जानकारी उन्होंने नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी एवं मुख्य पार्षद को भी दिया है। घटना के बाद नगर परिषद के मुख्य पार्षद रितेश कुमार ने बताया कि उन्होंने सफाई कर्मियों के मामले को लेकर नगर थाना के एसएचओ को तत्काल फोन किया। लेकिन उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया। उन्होंने बताया कि पिछले लॉकडाउन में भी सभी सफाई कर्मियों को पास बनाकर दिया गया था।

खबरें और भी हैं...