दुस्साहस:चुनाव चिह्न लेने गए वार्ड प्रत्याशी का तीन दिन बाद मिला शव, भतीजा सहित दो हिरासत में

पलासीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दीपनगर में मृतक के घर शव पहुंचने पर लगी भीड़। - Dainik Bhaskar
दीपनगर में मृतक के घर शव पहुंचने पर लगी भीड़।
  • पलासी के दीपनगर की घटना, मृतक जगदीश 2016 के चुनाव में निर्विरोध हुए थे निर्वाचित
  • प्रखंड कार्यालय से घर नहीं लौटने पर बुधवार को परिजन ने थाने में दर्ज कराई थी लापता होने की शिकायत, भतीजे पर हत्या करने का ग्रामीणों ने जताई आशंका

पलासी थाना क्षेत्र के नकटा खुर्द पंचायत के दीपनगर वार्ड 13 के निवर्तमान वार्ड सदस्य सह प्रत्याशी जगदीश ठाकुर उर्फ मकरू ठाकुर के हत्या किए जाने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। जानकारी के अनुसर जगदीश ठाकुर इस बार मंगलवार को चुनाव चिह्न लेने के लिए प्रखंड कार्यालय गए थे। देर संध्या तक घर नहीं पहुंचने पर परिजनों ने खोजबीन शुरू की। जब कोई जानकारी प्राप्त नहीं हुई तो बुधवार को जगदीश के बड़े पुत्र रोहित ठाकुर ने पिता के लापता होने की लिखित जानकारी स्थानीय पुलिस को दी। गुरुवार को दिन के 9-10 बजे के बीच मृतक के दामाद और बेटे ने खोजबीन के क्रम में दीपनगर गांव से पश्चिम सुरकीया धार बघार में शव देखा। इसके बाद शव को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। मृतक अपने पीछे पत्नी सिया देवी के साथ ही दो पुत्र क्रमशः रोहित ठाकुर, छोटू ठाकुर, एक पुत्री ललिता देवी को छोड़ गए हैं। मृतक वार्ड सदस्य जगदीश ठाकुर उर्फ मकरू ठाकुर वर्ष 2016 के चुनाव में निर्विरोध वार्ड सदस्य के पद पर चुने गए थे। मृतक के भलमनसाहत से प्रभावित ग्रामीणों ने उन्हें वार्ड सदस्य के पद पर निर्विरोध चुना था। ग्रामीणों की माने तो इस बार के चुनाव में भी उनकी जीत सुनिश्चित मानी जा रही थी। इस बार के चुनाव में मृतक का भतीजा महेश ठाकुर भी चाचा के खिलाफ चुनाव लड़ रहा है। ग्रामीणों ने आशंका व्यक्त करते हुए कहा कि वार्ड सदस्य उम्मीदवार महेश ठाकुर के द्वारा ही साजिश के तहत इस हत्या की घटना को अंजाम दिया गया होगा।

एसपी और डीएसपी के आने की मांग पर घंटों अड़े रहे ग्रामीण

शव मिलने की सूचना पर एसएचओ शिवपूजन कुमार, पुअनि शाहजहां खां दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजने का प्रयास किया, लेकिन गांव के लोगों ने अपनी एकजुटता दिखाई और एसपी और डीएसपी के बुलाने की मांग पर अड़ गए। ग्रामीणों का कहना था कि एसपी साहब के आने के बाद ही हम लोग शव उठने देंगे। बाद में स्थानीय लोगों के समझाने और पुलिस के आश्वासन मिलने के बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए अररिया भेज दिया।

हिरासत में लिए गए दोनों लोगों से पुलिस कर रही पूछताछ
पुलिस ने संदेह के आधार पर पूछताछ के लिए दो लोगों को हिरासत में लिया है। बताया जा रहा है कि उसमें मृतक का एक भतीजा भी शामिल है। पुलिस दोनों से पूछताछ करने में जुट गई है। ग्रामीणों ने हत्यारे को पकड़कर कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की मांग की है। शोक संवेदना प्रकट करने वालों में अशोक यादव,दिलीप यादव, तारणी यादव, पीतांबर यादव, दिलीप कुमार उर्फ छेदी, आनंदी यादव,पसस उम्मीदवार बीरेंद्र यादव, मनोज यादव,अरुण यादव, राजकुमार यादव, बीरेंद्र पासवान आदि शामिल हैं।

नाई संघ ने जगदीश की हत्या की घटना पर जताया आक्रोश

अररिया | पलासी थाना के दीपनगर में जगदीश ठाकुर के अपहरण और उसके बाद हत्या किये जाने पर ज़िला नाई संघ ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़ा करते हुए शिथिलता बरतने का आरोप लगाया है। हत्या को लेकर अररिया जिला नाई संघ में आक्रोश व्याप्त है। इस संबंध जिला नाई संघ अध्यक्ष अरुण कुमार ठाकुर ने बताया कि मृतक जगदीश ठाकुर अपने परिवार को कह कर गया था कि वो पलासी प्रखंड से वार्ड सदस्य का अपना चुनाव चिह्न लाने जा रहा है। पर दो दिनों तक अपने घर नहीं लौटा। तब दूसरे दिन परिजनों ने पलासी थाना में जगदीश के अपहरण का मामला दर्ज करवाया। उन्होंने बताया कि अगर पुलिस इस मामले को गंभीरता से लेती तो जान बच सकता था। संघ के सचिव ने पुलिस कप्तान से दोषी को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...