लोगों से अपील:संक्रमण से बचाव का प्रभावी अस्त्र है टीकाकरण :डीएम

अररिया8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हरी झंडी दिखा कर रथ को रवाना करते डीएम। - Dainik Bhaskar
हरी झंडी दिखा कर रथ को रवाना करते डीएम।
  • जागरूकता रथ के माध्यम से आम लोगों को कोरोना टीकाकरण के प्रति किया जाएगा जागरूक
  • जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखा डीएम प्रशांत कुमार ने किया रवाना

जिले में कोरोना टीकाकरण के प्रति आमलोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से विभिन्न माध्यमों से प्रचार-प्रसार अभियान का संचालन किया जा रहा है। इसी क्रम में सोमवार को जिले के सभी नौ प्रखंडों में प्रचार के लिये जागरूकता वाहन को रवाना किया गया। इसे लेकर समाहरणालय परिसर में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी प्रशांत कुमार सीएच ने जागरूकता वाहन को हरी झंडी दिखाकर क्षेत्र भ्रमण के लिये रवाना किया। इस दौरान सिविल सर्जन डॉ.एमपी गुप्ता, सदर एसडीओ शैलेशचंद्र दिवाकर, जिला सूचना व जनसंपर्क पदाधिकारी दिलीप सरकार, डीपीएम स्वास्थ्य रेहान अशरफ, डीएएम सनोज कुमार सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। जिलाधिकारी प्रशांत कुमार सीएच ने कहा अररिया जिले में टीकाकरण अभियान का संचालन तेजी से हो रहा है। अब तक 1.10 लाख लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है। डीएम ने कहा फिलहाल 45 साल से अधिक उम्र के तमाम लोगों के लिये टीकाकरण अभियान का संचालन किया जा रहा है। टीकाकरण की प्रक्रिया पूरी तरह नि:शुल्क है। कोरोना का टीका सभी लोगों के लिये जरूरी है। अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित कराना जिला प्रशासन का उद्देश्य है। ताकि कोरोना से जुड़ी चुनौतियों का हम सामूहिक रूप से मात दे सकें। टीकाकरण के प्रति आम लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से सभी प्रखंडों के लिये अलग-अलग जागरूकता रथ रवाना किये गये हैं। जो सुदूरवर्ती ग्रामीण इलाके के लोगों को टीकाकरण के लिये प्रेरित व जागरूक करने का काम करेगा। डीएम ने कोरोना टीका को शतप्रतिशत सुरक्षित है। इसे लेकर किसी तरह की हिचकिचाहट की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने जिलावासियों से बढ़-चढ़ कर टीकाकरण अभियान में भाग लेने की अपील की। देश में 11 से 14 अप्रैल के बीच विशेष टीकाकरण महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। अधिक लोगों को कोरोना का टीका लगाना अभियान का उद्देश्य है। इस दौरान लोगों को टीकाकरण के लिये प्रेरित व प्रोत्साहित करने के लिये विशेष प्रयास किये जा रहे हैं उन्होंने कहा संक्रमण से बचाव के लिये टीकाकरण एक अस्त्र के सामान है। उन्होंने 45 साल से अधिक उम्र के तमाम लोगों से टीका लगाने की अपील की। सिविल सर्जन ने कहा टीकाकरण, मास्क का उपयोग व शारीरिक दूरी का ध्यान रखकर ही हम कोरोना से जुड़ी चुनौतियों को करारी शिकस्त दे सकते हैं।

खबरें और भी हैं...