पानी बना परेशानी:48 घंटे बाद भी नहीं निकला पानी, बूंदाबांदी ने फिर बढ़ाई परेशानी

झज्जर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जलभराव के बीच से निकलते कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
जलभराव के बीच से निकलते कर्मचारी।
  • पीडब्लूडी में जलभराव की समस्या पिछले साल भी हुई थी
  • पिछले एक साल की मेहनत के बाद यहां फिर से पार्क में पानी भर गया

जिले में 2 दिन से बारिश नहीं हुई। इसके बावजूद शहर के कई सरकारी कार्यालयों में बरसात का पानी भरा है। अभी पानी नहीं निकल पाया था, लेकिन शनिवार को फिर से बारिश हाेने पर परेशानी बढ़ गई। बता दें कि जिले में 5 अगस्त को औसतन 14 एमएम बारिश दर्ज की गई थी, जिसमें सबसे अधिक बारिश 44 एमएम झज्जर में हुई थी। इससे शहर में पानी भर गया।

यह तीसरा मौका था जब जलभराव ने लोगों को परेशानी में डाल दिया। पिछले दो दिन से झज्जर में बारिश दर्ज नहीं हुई। इसके बावजूद कई सरकारी भवनों में बारिश का पानी भरा है। पीडब्लूडी रेस्ट हाउस में वीआईपी लोगों का आना जाना लगा रहता है। मौजूदा समय में यहां डॉक्टरों का रुकना रहता है। इसलिए रेस्ट हाउस परिसर में सफाई रहना जरूरी है। यहां अभी तक बरसात का पानी नहीं निकला। कर्मचारियों ने बताया कि सीवर बैक मारने के कारण बार-बार पानी परिसर में फैल जाता है। जिसे निकालने के लिए फिर कुछ समय रुक कर एक घंटा मोटर चलानी पड़ती है। अब फिर से बारिश होने के कारण यह समस्या बढ़ गई।

पैदल आने-जाने तक का नहीं रास्ता

पीडब्लूडी में जलभराव की समस्या पिछले साल भी हुई थी। तब यहां कई दिन तक पानी रहने के कारण 10 साल पुराने पेड़ नष्ट हो गए थे। पिछले एक साल की मेहनत के बाद यहां फिर से पार्क में पानी भर गया। अब पिछले 48 घंटे से बारिश नहीं होने के बावजूद बारिश का पानी नहीं निकल पाया है। हालत यह है कि यहां पैदल आने जाने तक का रास्ता नहीं है। बाहर से आने वाले लोगों के अलावा व स्टाफ को पानी के अंदर से होकर आना जाना पड़ता है।

खबरें और भी हैं...