बढ़ता संक्रमण:बांका में 4 बैंककर्मी सहित 8, चांदन में 3 पुलिसकर्मी रजौन में 4 और शंभूगंज में भी खुला खाता... 1 संक्रमित

बांका16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मॉक ड्रिल के दौरान मौजूद स्वास्थ्य कर्मी। - Dainik Bhaskar
मॉक ड्रिल के दौरान मौजूद स्वास्थ्य कर्मी।
  • जिले में कोरोना के 16 नए संक्रमित मिले, एक सीओ की रिपोर्ट पॉजिटिव की सूचना पर पुष्टि नहीं

जिले में कोरोना से आम लोगों के साथ-साथ पुलिसकर्मी व बैंक कर्मी भी संक्रमित हो रहे हैं। शुक्रवार को भी बांका, रजौन, चांदन व शंभूगंज में 16 संक्रमित मरीज मिले। आरटीपीसीआर जांच में बांका के तीन लोग संक्रमित पाए गए। 5 अन्य लोग एंटीजन किट में संक्रमित पाए गए, जिसमें चार एचडीएफसी बैंक के कर्मी हैं। रजौन में भी एंटीजन जांच में चार लोग संक्रमित मिले हैं। वहीं चांदन प्रखंड में तीन दिनों के अंदर संक्रमितों की संख्या 6 पर जा पहुंची है। बुधवार को एंटीजन किट से जांच के दौरान एक शिक्षक और एक स्वास्थ्य कर्मी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। शुक्रवार जांच के दौरान चांदन थाना के एक सअनि, थाना मैनेजर व एक बीएमपी जवान की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। एक ही दिन में तीन पुलिस कर्मियों की रिपोर्ट पाॅजिटिव मिली है। सीओ की भी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने की सूचना है। हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हुई है। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डाॅ. एके सिन्हा ने बताया कि सभी संक्रमितों को होम क्वारेंटाइन में रहने की सलाह दी गई है।

कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए अस्पताल में हुआ मॉक ड्रिल
कटोरिया| कटोरिया रेफरल अस्पताल में शुक्रवार को माॅक ड्रिल किया गया। इस दौरान पीपीई किट पहने एंबुलेंस चालक एवं चिकित्सा कर्मी द्वारा एंबुलेंस में कोविड रोगी को लेकर अस्पताल में दाखिल होने का रिहर्सल किया गया। इधर कोविड रोगी के अस्पताल परिसर में दाखिल होते ही पहले से पीपीई कीट पहनकर तैयार चिकित्सक एवं स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा कोविड मरीज को कोविड वार्ड ले जाया गया। जहां रोगी को तुरंत ऑक्सीजन लगाकर उनके ऑक्सीजन लेवल की जांच सहित अन्य जांच एवं स्लाइन चढ़ाने का रिहर्सल किया गया। कोविड रोगी के लिए उपलब्ध सारी सुविधाओं के प्रयोग का रिहर्सल किया गया।

अमरपुर अस्पताल में स्वास्थ्य कर्मियों ने किया मॉकड्रिल
अमरपुर रेफरल अस्पताल में शुक्रवार को डॉक्टरों एवं स्वास्थ्य कर्मियों ने कोरोना मरीजों के इलाज के लिए मॉकड्रिल किया। अस्पताल प्रबंधक सुनील कुमार चौधरी ने बताया कि लंबे समय बाद कोविड का प्रकोप फिर से आया है, अस्पताल में कोविड मरीज को क्या सुविधा दी जा सकती है ? इसके लिए वरीय अधिकारियों के निर्देश पर मॉकड्रिल किया गया। अस्पताल के कंसंस्ट्रेटर, ऑक्सीजन सिलेंडर आदि की भी जांच की गई। सभी लोगों ने कोरोना से बचाव के लिए पीपीटी किट पहन रखा था। अस्पताल प्रबंधक ने बताया कि अमरपुर में कोरोना मरीजों के लिए रैन बसेरा में कोविड वार्ड बनाया जाएगा व कंसंस्ट्रेटर व ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध रहेंगे।

स्टेशन पर लोगों की होगी कोरोना जांच: सुनील
जिले में अभी 30 से ज्यादा एक्टिव केस हैं, लेकिन अब भी लापरवाही बरती जा रही है। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डाॅ. सुनील कुमार चाैधरी ने बताया कि शहर के विभिन्न जगहाें पर सरकारी कार्यालय सहित विभिन्न जगहाें पर लाेगाें का काेराेना जांच कराया जा रहा है। बांका रेलवे स्टेशन पर भी टीम काे तैनात कर यात्रियाें की जांच कराई जाएगी।

कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो फरार हो गईं ऑपरेटर

शंभूगंज |प्रखंड मुख्यालय स्थित आरटीपीसीआर काउंटर पर कार्यरत डॉटा ऑपरेटर सोनी कुमारी संक्रमित हो गई है। तीसरी लहर में शंभूगंज में यह पहला मामला है। शंभूगंज सीएचसी के स्वास्थ्य प्रबंधक संजय सिंह ने पुष्टि करते हुए बताया कि जांच रिपोर्ट आने के बाद से ही वह अस्पताल से फरार हो गई है, जिसकी सूचना प्रखंड प्रशासन को दे दी गई है। बीडीओ प्रभात रंजन ने बताया कि आरटीपीसीआर काउंटर पर सोनी कुमारी के सम्पर्क में रहने वाले सभी डॉटा ऑपरेटर व कर्मियों का कोविड जांच कराई जा रही है। बीडीओ प्रभात ने कहा सोनी को होम क्वारंटाइन में रहने को कहा गया है।

खबरें और भी हैं...