बेखौफ अपराधी:पूर्व मुखिया व उनके सहयोगियों से मारपीट कर बुलेट, दो मोबाइल और 20 हजार की छिनतई

बांका22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • निजी जमीन पर काम करवाने के बदले में 12 लाख रुपए की रंगदारी मांगी

गरीबपुर पंचायत के पूर्व मुखिया कैलाश दुबे उर्फ बमबम दुबे ने बदमाशों ने 12 लाख रुपए की रंगदारी की मांग की। साथ ही पूर्व मुखिया और उनके सहयोगियों के साथ मारपीट कर बदमाशों ने बाइक, दो मोबाइल व 20 हजार नकद की छिनतई कर ली। विरोध पर अपराधियों ने पूर्व मुखिया कैलाश दुबे, चालक संग्रामपुर गांव निवासी चुन्नी यादव तथा होम केयर टेकर कामदेवपुर गांव निवासी मनीष तिवारी को पीटकर जख्मी कर दिया। तीनों जख्मी का उपचार अमरपुर स्थित रेफरल अस्पताल में किया गया। जख्मी पूर्व मुखिया कैलाश दुबे ने बताया कि गुरुवार को मेढ़ियानाथ पुल के समीप अपनी निजी जमीन पर मजदूरों के द्वारा पिलर लगवाने का काम करवा रहे थे। दोपहर में दौना निवासी मो. सारीक ने फोन के द्वारा मेढ़ियानाथ के समीप जमीन पर बुलाया। अपनी जमीन पर पहुंचा तो देखा सारीक मेरी जमीन के पास कार लगाकर बैठा है। पहुंचते ही दौना गांव निवासी राजा, कारू, बकचप्पर गांव निवासी कृष्णमोहन सिंह, सोनु कुमार, गोरखा समेत तीन चार अज्ञात लोग पहले से मौजूद है। ये लोग पहुंचते ही गाली-गलौज करने लगे और विरोध करने पर उक्त लोगों ने अपने हाथ में लिए पिस्टल की बट से प्रहार करते हुए जख्मी कर दिया। बीच -बचाव करने आए चालक चुन्नी यादव एवं मनीष तिवारी को भी उक्त लोगों ने पीटकर जख्मी कर दिया। उक्त लोगों ने मेरे जेब में रखे बीस हजार रुपए, दो मोबाइल एवं बुलेट बाइक लेकर फरार हो गए। कृष्ण मोहन सिंह ने धमकी देते हुए कहा कि अगर तुम्हें इस जमीन पर मकान बनाना है तो बारह लाख रुपये की रंगदारी देना होगा अन्यथा परिवार के सभी सदस्यों को जान से मार देंगे। साथ ही उक्त लोग मेरी हत्या करने की नियत से मुझे बाइक पर बैठाकर दौना गांव की ओर ले जाने लगा। ग्रामीणों के आने पर सभी लोग बुलेट को लेकर चिरैया की ओर भाग गए। पीड़ित पूर्व मुखिया ने थाने में लिखित आवेदन देकर कार्रवाई की मांग की है। थानाध्यक्ष मो. सफदर अली ने बताया कि आवेदन पर अनुसंधान किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...