प्राकृतिक आपदा:मात्र आधे घंटे की बारिश में काल बनकर गिरा ठनका, सहायिका सहित सात की मौत

बांका टीम2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खरवा के बहादुर की आठ भैंस मर गई| खरवा के बहादुर यादव की आठ भैंस ठनके से मर गई। बहादुर व गांव के ही नंदेश्वरी यादव ने बताया कि सभी भैंस कैरवार घाट में चर रही थी। तभी ठनके की चपेट में आकर सभी मर गई। - Dainik Bhaskar
खरवा के बहादुर की आठ भैंस मर गई| खरवा के बहादुर यादव की आठ भैंस ठनके से मर गई। बहादुर व गांव के ही नंदेश्वरी यादव ने बताया कि सभी भैंस कैरवार घाट में चर रही थी। तभी ठनके की चपेट में आकर सभी मर गई।
  • खेत में काम रहे थे सभी, एक दर्जन से अधिक लोग झुलसे, कई मवेशी भी मरी
  • अमरपुर और चांदन में दो-दो, कटोरिया, बौंसी और जयपुर में एक-एक की मौत
  • चांदन में बहियार में धान रोप रहे परिजनों को खाना पहुंचा कर लौट रहे थे, जिस पेड़ के नीछे छिपे उसी पर गिरा ठनका

शनिवार दोपहर बाद जिले में करीब आधे घंटे तक हुई बारिश और वज्रपात ने दर्जनों परिवारों को जीवन भर का दर्द दे दिया। इस आधे घंटे में ठनके की चपेट में आने से जिले में सात लोगों की मौत हो गई। जबकि एक दर्जन से अधिक लोग झुलस गए। साथ ही कई जगह मवेशी की मौत हो गई। झुलसे लोगों का इलाज अस्पताल में किया जा रहा है। चांदन के बिरनियां में दो अलग-अलग स्थानों पर वज्रपात से एक 18 वर्षीय युवक व एक 30 वर्षीय महिला की मौत हो गई। जबकि चार महिला बुरी तरह से झुलस गई। दो महिला को देवघर रेफर किया गया है। मृतक की पहचान बिरनियां के लुरीटाड़ गांव निवासी 18 वर्षीय दीपक कुमार यादव पिता योगेन्द्र यादव और 30 वर्षीय रेखा देवी पति जितेंद्र यादव के रूप में हुई। इनके साथ रही एक महिला झुलसी है। बताया गया कि ये सभी बहियार में काम कर रहे परिजनों को खाना पहुंचाकर वापस गांव लौट रहे थे। चांदन के मृतक बारिश से बचने के लिए जिस पेड़ के नीचे खड़े हुए, उसी पर ठनका गिरा। वहीं बिरनियां के जमुनी गांव में रोपनी कर रही तीन महिला झुलस गई।

अमरपुर में आंगनबाड़ी सहायिका की भी मौत
अमरपुर के बाजा गांव में धानरोपनी कर रही मां को खाना पहुंचाने जा रही राजू मांझी की 13 वर्षीय पुत्री राखी की ठनके से मौत हो गई। वहीं दूसरी ओर कासपुर में धान की रोपनी कर रही आंगनबाड़ी सहायिका की वज्रपात की चपेट में आने से मौत हो गयी। सहायिका की पहचान कासपुर गांव निवासी सुभाष दास की 24 वर्षीय पत्नी लक्ष्मी देवी के रूप में हुई। अमरपुर थाना के अवर निरीक्षक राम विचार सिंह घटना स्थल पर पहुंच कर शव को अपने कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

चांदन की एक महिला देवघर की गई रेफर
चांदन के जमुनी के शिवशंकर चौधरी की पार्वती देवी, कामदेव चौधरी की शालो देवी व विमल चौधरी की रूका देवी रेहड़वा बहियार में रोपनी कर रही थी। तभी ठनके की चपेट में आ गई। रूका को देवघर रेफर किया गया है।

रोते-बिलखते मृतक के परिजन।
रोते-बिलखते मृतक के परिजन।

कटोरिया में किशोर की मौत, 8 जख्मी
कटोरिया में आनंदपुर ओपी क्षेत्र अंतर्गत 14 वर्षीय किशोर की मौत हो गई। साथ ही 6 मवेशी, चार बकरी की भी मौत हो गई। जबकि आठ महिला पुरुष एवं बच्चे जख्मी हो गये। मृतक किशोर कटोरिया थाना क्षेत्र के कठौन पंचायत अंतर्गत दर्वेपट्टी गांव का ढीबा पंडा के 14 वर्षीय पुत्र लालधारी पंडा बताया गया। जख्मियों में खांड़ीपर गांव निवासी अशोक यादव, असूढा गांव टोला चमरडीहा के गिरजू दास, अरूण कुमार, रंजित कुमार, अघनू दास, निरंजन कुमार, राहुल कुमार एवं लालपुर की चिंता देवी शामिल है।

जयपुर में खेत में काम कर रहे युवक की मौत

इधर बौंसी थाना क्षेत्र अंतर्गत बंधुआ कुरावा थाना क्षेत्र के गहरा जोर गांव में वज्रपात से 60 वर्षीय लाली मुर्मू की मौत हो गई। मृतका की पहचान शिवलाल सोरेन की पत्नी के रूप में हुई है, जो नरचातरी बहियार में धान रोप रही थी। जयपुर थाना क्षेत्र के केरवार गांव के बहियार में वज्रपात से शैलेश कुमार उम्र 15 वर्ष पिता भूषण यादव की मौत हो गयी। साथ ही दो महिला प्रमिला देवी पति धनेसर यादव तथा गुडिया देवी पति अरूण यादव घायल हो गई। ग्रामीणों के अनुसार ये तीनों गांव से एक किलोमीटर की दूरी पर बहरातर बहियार में भैंस चरा रहे थे। मृत युवक अपने मोबाइल पर गाना सुन रहा था। तभी वज्रपात से मौत हो गई और दोनों महिला बेहोश होकर जमीन पर गिर गई।

खबरें और भी हैं...