पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अपराध:जमीन पर दखल दिलाने और समझौता कराने पहुंचे सीओ व पुलिस टीम पर, थानाध्यक्ष समेत पांच जवान जख्मी

बांका/अमरपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मामले काे शांत कराते एसडीएम व एसडीपीअाे और इनसेट में जख्मी थानाध्यक्ष। - Dainik Bhaskar
मामले काे शांत कराते एसडीएम व एसडीपीअाे और इनसेट में जख्मी थानाध्यक्ष।
  • अमरपुर के बलिया गदाल की घटना, 3 एकड़ 35 डिसमिल जमीन पर विवाद
  • तीर-धनुष व ईंट-पत्थर से पुलिस पर किया हमला, आत्मरक्षार्थ जवानों ने की हवाई फायर

कोर्ट से ऑर्डर के बाद विवादित जमीन पर एक पक्ष को कब्जा दिलाने गए सीओ, थानाध्यक्ष सहित अन्य जवानों पर दूसरे पक्ष के लोगों ने हमला कर दिया। घटना अमरपुर थाना क्षेत्र के बलिया गदाल गांव का है। जहां महेंद्र यादव के 3 एकड़ 35 डिसमिल जमीन पर दखल दिलाने रविवार दाेपहर अमरपुर सीओ स्वाति कृष्णा, अमरपुर थानाध्यक्ष अरविंद कुमार राय सहित पुलिस जवान पहुंचे थे। इस बीच दूसरे पक्ष के नकुल राय व उनके समर्थकों ने सीओ सहित पुलिस टीम पर तीर-धनुष व ईंट-पत्थर से हमला कर दिया गया। जिसमें अमरपुर थानाध्यक्ष सहित 5 पुलिस जवान घायल हो गए। हमला को देख पुलिस ने भी जबावी कार्रवाई करते हुए लाठी भांजी व आसमानी फायर किया। वारदात के दौरान आराेपियाें द्वारा अमरपुर सीओ काे बंधक बनाने का भी प्रयास किया गया। हालांकि थानाध्यक्ष ने लाठी-डंडा खाते हुए सीओ काे आराेपियाें से मुक्त कराया। करीब एक घंटे तक बलिया गदाल में तांडव मचता रहा। इस बीच पुलिस वाहन को आरोपियों ने फूंकने की कोशिश की। हालांकि जब पुलिस द्वारा आसमानी फायर किया गया, तब आरोपियों में खलबली मची और भागने लगे। हालांकि पुलिस पर हमले से पूर्व जमीन पर दावा करने वाले दोनों पक्ष आपस में भिड़ चुके थे, जिसमें दोनों पक्षों से छह लोग जख्मी हुए। मामले में पुलिस द्वारा 9 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस पर हमला की सूचना मिलते ही बांका के एसडीएम मनोज कुमार चौधरी, एसडीपीओ दिनेश चंद्र श्रीवास्तव मौके पर भारी संख्या में पुलिस बलों के साथ पहुंचे, तब जाकर पूरी तरह से मामला शांत हो सका। इस हमले में घायल होने वालों में थानाध्यक्ष अरविंद कुमार राय, दारोगा विष्णु देव कुमार सहित अन्य पुलिस कर्मी घायल शामिल हैं, जिनका इलाज अमरपुर अस्पताल में किया जा रहा है।

गंभीर रूप से जख्मी लोगों को भेजा गया भागलपुर मायागंज अस्पताल
दोनों पक्षों के बीच हुई मारपीट की घटना में 6 लोग चन्द्रमा देवी, नकुल राय, शिवनारायण राय व अन्य जख्मी हो गये हैं। जिन्हें रेफरल अस्पताल में चिकित्सक द्वारा प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज हेतु भागलपुर मायागंज रेफर कर दिया गया। जानकारी हो कि इसी जमीन को लेकर पूर्व में भी दोनों पक्षों के बीच मारपीट की घटना हो चुकी है।

कोर्ट में जमीन विवाद का चल रहा था केस, महेंद्र के पक्ष में आया था फैसला
विवादित जमीन पर कोर्ट केस चल रहा था। जिसका फैसला महेंद्र यादव व उनके लोगों के पक्ष में आया था। जिसके बाद सीओ व पुलिस टीम महेंद्र यादव पक्ष को दखल दिलाने व दूसरे पक्ष से समझौता कराने के लिए पहुंची थी। जहां पहुंचते ही सीओ व पुलिस टीम पर दूसरे पक्ष के लोगों ने जानलेवा हमला कर दिया।

दूसरा पक्ष पूर्वजों की जमीन बता कर रहा दावा
जानकारी के अनुसार तीन एकड़ पैंतीस डिसमिल जमीन महेंद्र यादव, अधिक लाल यादव, लखन यादव, धनंजय यादव, रामवृक्ष यादव द्वारा 1970 में ही रजिस्ट्री कराया गया था। जबकि नकुल राय, सुनीता देवी पति सुधीर राय,चन्द्रा देवी पति सहदेव राय, शिवनारायण राय, सहित अन्य के द्वारा जबरन पूर्वज की जमीन कहकर उसपर कब्जा किया हुआ था। इस कारण दोनों पक्षों के बीच विवाद चला आ रहा था, जो आज उग्र रूप घारण कर लिया।

पुलिस के पांच जवान हुए जख्मी, नौ लोगों की हुई गिरफ्तारी, जांच जारी
ग्रामीणों ने पुलिस पर तीर, धनुष, ईंट, पत्थर से हमला कर दिया। पुलिस ने आसमानी फायर किया। इस घटना में अमरपुर थानाध्यक्ष, एक एएसआई सहित पांच पुलिसकर्मी जख्मी है। आधा दर्जन ग्रामीणों के भी घायल होने की सूचना है। 9 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मामले की छानबीन की जा रही है।
अरविन्द कुमार गुप्ता, एसपी, बांका

खबरें और भी हैं...