प्रदर्शन:खाद की मांग को ले 3 घंटे किसानों ने किया एनएच-107 जाम, हंगामा

बनमनखी20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बनमनखी में खाद नहीं मिलने को लेकर आगजनी करते आक्रोशित  किसान। - Dainik Bhaskar
बनमनखी में खाद नहीं मिलने को लेकर आगजनी करते आक्रोशित किसान।
  • आक्रोशित किसानों ने कहा- खाद की किल्लत से खेती हो रही चौपट

प्रखंड क्षेत्र में खाद के किल्लत कम होने का नाम नही ले रही है और किसानों का आक्रोश बढ़ता जा रहा है। इस कारण आक्रोशित किसानों ने शुक्रवार को बनमनखी अनुमंडल कार्यालय के सामने पूर्णिया-सहरसा एनएच107 को करीब 3 घंटे तक जाम कर उग्र प्रदर्शन किया। इससे आवागमन पूरी तरह बाधित रहा। जाम के दौरान किसानों ने मुख्य सड़क पर टायर जलाकर प्रदर्शन किया।वहीं सूबे की सरकार और प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। किसानों ने डीएपी और यूरिया के कमी का कारण स्थानीय प्रशासन और जिलाप्रशासन को ठहराते हुए कहा कि अगर प्रशासन ठीक से बंटवारा करवाते तो आज किसानों को ऐसी समस्या नहीं होती। वहीं जाम लगने से सड़क के दोनों ओर गाड़ियों की लंबी कतार लग गई।जिस कारण मुसाफिरों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा।किसानों का कहना था कि प्रखंड क्षेत्र में शुरू से खाद की किल्लत चल रही है।ऐसे में किसानों को इस समय खेती करना कठिन साबित हो रहा है।खाद की कमी से किसान ससमय फसल में खाद नहीं दे पा रहे है। कहा कि दुकानदार खाद की कालाबाजारी करते हैं।दुकानदार मोटी रकम लेकर खाद बेचते हैं। खाद दुकानदार किसानों को खाद नहीं रहने और ऊपर से आवंटन नहीं मिलने का बहाना बनाकर वापस भेज देते हैं, जबकि शहर के कई दुकानों में खाद है।लेकिन किसानों को सही कीमत पर खाद नहीं दिया जा रहा है।बिस्कोमान भवन में इस ठंड में भी आधी रात से हीं किसानों की लंबी कतार लग रही हैं, लेकिन प्रशासन उसे खाद उपलब्ध नहीं करवा रहे हैं।किसानों का साफ तौर पर कहना था कि उन लोगों का खेती कार्य खाद की किल्लत से पूरी तरह से चौपट होने को है।किसानों ने कहा कि खाद लेने के लिए वे लोग इस कदर परेशान है कि महिलाओं को भी खाद लेने के लिए बिस्कोमान भवन पर अहले सुबह से ही भूखे प्यासे खड़े किये हुए है।

मुख्य मार्ग के जाम रहने से सड़क के दोनों किनारे लगी वाहनों की लंबी कतार
किसानों का साफ तौर पर कहना था कि जब तब उन लोगों को खाद की आपूर्ति पर्याप्त मात्रा में नहीं होगी तब तक वे लोग सड़क जाम नही हटाएंगे।इतना ही नहीं वे लोग सभी किसानों को पर्याप्त मात्रा में यूरिया की उपलब्धता जल्द प्रशासन से करवाने की भी मांग कर रहे थे। इधर मुख्य मार्ग के जाम रहने से सड़क के दोनों साइड वाहनों की लंबी कतार लग गई। इतना ही नही आवागमन की भी व्यवस्था ठप हो गई। किसानों द्वारा सड़क जाम किये जाने की सूचना मिलते ही सीओ अर्जुन कुमार विश्वास और बिस्कोमान प्रबंधक नीरज कुमार मौके पर पहुंचकर गुस्साए किसानों को समझा बुझाकर शांत करवाया। बिस्कोमान प्रबंधक और सीओ सभी किसानों को खाद उपलब्ध करवाने की बात कही।

खबरें और भी हैं...