पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्यक्रम:इंस्पायर अवॉर्ड के लिए 15 अक्टूबर तक कर सकेंगे आवेदन

बरियारपुरएक दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लेट्स टॉक कार्यक्रम में शामिल अतिथिगण व अन्य। - Dainik Bhaskar
लेट्स टॉक कार्यक्रम में शामिल अतिथिगण व अन्य।
  • टीचर्स ऑफ बिहार की ओर से इंस्पायर अवार्ड मानक विषय पर लेट्स टॉक कार्यक्रम का आयोजन

टीचर्स ऑफ बिहार के तकनीकी सहयोगी शिवेन्द्र सुमन के सौजन्य से इंस्पायर अवार्ड मानक योजना विषय पर फेसबुक पेज पर आयोजित लेट्स टॉक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसका संचालन नम्रता मिश्रा एवं निशी कुमारी राजकीय सम्मान प्राप्त शिक्षिका सह मॉडरेटर टीम टीचर्स ऑफ बिहार के द्वारा किया गया। लेट्स टॉक कार्यक्रम में अतिथि के रूप में राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी किरण कुमारी, क्वालिटी एजुकेशन बिहार शिक्षा परियोजना परिषद पटना एवं समर बहादुर सिंह, जिला शिक्षा पदाधिकारी शामिल हुए। इसकी जानकारी देते हुए टीम टीचर्स ऑफ बिहार के जिला मेंटर मुदित कुमार एवं प्रवक्ता रंजेश कुमार ने कहा कि लेट्स टॉक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अतिथियों के द्वारा बताया गया कि इंस्पायर्ड अवॉर्ड मानक योजना विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार द्वारा विकसित प्रमुख कार्यक्रमों में से एक है। देश के सभी मान्यता प्राप्त सरकारी और निजी विद्यालयों में अध्ययनरत कक्षा 6 से 10 तक के विद्यार्थी इंस्पायर्ड अवॉर्ड मानक योजना 2021 के तहत ऑनलाइन आवेदन ई-एमआईएएस पोर्टल पर 15 अक्टूबर 2021 तक कर सकते हैं। विद्यार्थियों में विज्ञान और प्रौद्योगिकी के प्रति दिलचस्पी बढ़ाने और उन्हें केंद्र सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना से जोड़ने के लिए चयनित सभी छात्र एवं छात्राओं को उनके बैंक खाते में 10-10 हजार रुपए की राशि हस्तांतरित की जाती है। कहा कि इंस्पायर्ड अवॉर्ड मानक योजना का मुख्य उद्देश्य बच्चों में सृजनशीलता एवं रचनात्मक सोच को बढ़ावा देने एवं उनके मौलिक एवं नव परिवर्तनों से संबंधित विचारों के प्रस्ताव के लिए ऑनलाइन आवेदन करना है।

राष्ट्रपति के हाथों दिया जाएगा नगद पुरस्कार
प्रतिभाशाली आवेदकों का जिला स्तरीय चयन के बाद राज्य स्तर पर चयन किया जाता है। जिन छात्र एवं छात्राओं के विज्ञान मॉडल राज्य स्तर पर श्रेष्ठ होते हैं उन्हें राष्ट्रीय स्तरीय मंच पर प्रतिभा दिखाने का मौका दिया जाता है। कहा कि इंस्पायर्ड अवॉर्ड मानक योजना में जिला स्तर पर 10 हजार एवं राज्य स्तर पर 1 हजार और देश भर में 1 लाख विद्यार्थियों का चयन किया जाएगा। राष्ट्रीय स्तर पर चयनित मॉडल को राष्ट्रपति भवन में आयोजित परिवर्तन उत्सव में प्रदर्शित किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...