पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भास्कर एक्सपोज:एक माह पहले शराब तस्करी में जब्त गाड़ी से पुलिस गश्ती

बौंसी| माखन सिंह13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सुबह 9 :06 बजे : 11 जनवरी को मधुसूदन मंदिर के पास गश्ती के लिए पुलिस जब्त बोलेरो का उपयोग करती हुई दिखी। - Dainik Bhaskar
सुबह 9 :06 बजे : 11 जनवरी को मधुसूदन मंदिर के पास गश्ती के लिए पुलिस जब्त बोलेरो का उपयोग करती हुई दिखी।
  • निजी काम और सैर-सपाटा के लिए भी जब्त गाड़ी का उपयोग
  • ये तस्वीरें बौंसी थाने की पुलिस की करतूत का सबूत

बौंसी पुलिस ने पिछले महीने दो बाेतल शराब तस्करी के मामले में आंध्र प्रदेश की जिस बोलेरो को जब्त किया था। पुलिस उसी वाहन से शहर में गश्ती कर रही है। इतना ही नहीं, पुलिसकर्मी जब्त वाहन का उपयोग निजी काम में तो करते ही हैं साथ ही लग्जरी गाड़ियों से सैर-सपाटे भी करते हैं। वो भी तब जब थाना परिसर में ही इंस्पेक्टर साहब का आवास बना हुआ है। ऐसे में हमारा सवाल यह है कि गश्ती के निजी वाहन का प्रयोग किसके आदेश से हो रहा है, और इसके लिए इंधन का खर्च कौन उठा रहा है। हम यह सवाल इसलिए भी कर रहे हैं ताकि जिम्मेदार अपनी धूमिल होती छवि को जनता की नजरों में बेहतर कर सकें और आगे से ऐसे पुलिस वालों को सबक भी मिल सके। बौंसी पुलिस के कारनामे का खुलासा तब हुआ है जब 11 जनवरी की सुबह 9.06 मिनट पर मधुसूदन मंदिर के समीप से मंदार की अाेर बाैंसी पुलिस द्वारा एपी 16 सीयू 0665 नंबर बाेलेराे वाहन काे गुरते हुए देखा गया। इसके बाद पूरी पड़ताल की गई ताे पता चला कि उक्त वाहन काे बाैंसी पुलिस ने बीते साल 5 दिसंबर काे सुखनियां के समीप वाहन जांच के दाैरान दाे बाेतल शराब के साथ जब्त किया गया था। पुलिस ने वाहन को जब्त करने के बाद चालक दिलीप दास पर मद्य निषेध कानून के तहत केस भी दर्ज किया था। इन सब कार्रवाई के बावजूद बाैंसी पुलिस कानून को ताख पर रखकर खुलेआम थानाक्षेत्र में जब्त की हुई गाड़ी से गश्त करती है।

शक न हो इसलिए सादे लिबास में जब्त गाड़ी में गश्त करती है पुलिस
सूत्रों की मानें ताे जब्त वाहनों का इस्तेमाल पुलिस भी पूरी तरह से सावधानी से करती है। किसी को शक न हो इसके लिए पुलिस के अधिकारी और जवान सादे लिबास में गश्त लगाते हैं। उन्हें जब भी जब्त वाहन को बाहर निकाला होता है तो वे बिना वर्दी के थाना आते हैं और गाड़ी लेकर चले जाते हैं। इतना ही नहीं चालक भी प्राइवेट बिठाया जाता है, ताकि किसी प्रकार का कोई विवाद उत्पन्न न हो सके। मगर पुलिस की इस करतूत ने साफ जाहिर कर दिया है कि वर्दीधारी खुद कानून के पालन के लिए कितने सजग है और कर्तव्यनिष्ट हैं।

दोहपर 2 बजे : 20 दिन पहले बौंसी के बाजार में सड़क पर शराब तस्करी के मामले में जब्त कार भी घूमती नजर आई थी।
दोहपर 2 बजे : 20 दिन पहले बौंसी के बाजार में सड़क पर शराब तस्करी के मामले में जब्त कार भी घूमती नजर आई थी।

एक माह से पुलिस की करतूत पर रखी जा रही थी नजर

बाैंसी पुलिस एक ही जब्त वाहन का इस्तेमाल नहीं कर रही है। बल्कि कई वाहन जो विभिन्न मामलों में जब्त हैं, उसका इस्तेमाल किया जा रहा है। बौंसी पुलिस द्वारा एक और जब्त स्विफ्ट डिजायर कार आठ अगस्त को दोपहर दो बजे डैम रोड में भी दिखी थी। महत्वपूर्ण यह है कि बौंसी थाना परिसर में इस्पेक्टर का भी आवास है, बावजूद भी बौंसी थाना की पुलिस जब्त वाहनों का बेधड़क होकर इस्तेमाल कर रही है। भास्कर टीम लगातार एक माह से इस पर नजर रख रही थी।

सभी थाना को दो गाड़ी गश्ती व अन्य कार्य के लिए उपलब्ध कराया गया है। जब्त वाहन का किसी भी सूरत में इस्तेमाल नहीं किया जाना है। अगर पुलिस उपयोग कर रही है तो कार्रवाई की जाएगी।
अरविंद कुमार गुप्ता, एसपी बांका।

किसी भी सूरत में जब्त वाहन का उपयोग नहीं किया जा सकता। अगर ऐसा कहीं हो रहा है तो पूरी तरह से गलत है।
-संतोष कुमार, डीटीओ

जब्त वाहन थाना परिसर से बाहर नहीं निकाले जाते हैं, लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं।
-राज किशोर सिंह, थानाध्यक्ष, बाैंसी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser