असुविधा:उद्‌घाटन के 43 दिन बाद ही रोप-वे हुआ खराब

बौंसी24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रोप-वे खराब होने से डोली पर बिठा जैन श्रद्धालु को शिखर पर ले जाते लोग। - Dainik Bhaskar
रोप-वे खराब होने से डोली पर बिठा जैन श्रद्धालु को शिखर पर ले जाते लोग।
  • रोप-वे के इलेक्ट्रिकल पैनल में आई खराबी, दो दिन बाद चेन्नई से पैनल आने की जताई जा रही उम्मीद

9 करोड़ से मंदार में शुरू रो-पवे की सेवा में तकनीकी खराबी आ गई जिसके बाद रोप-वे को बंद कर दिया गया। ज्ञात हो कि 8 केबिन वाले रोपवे में प्रतिदिन करीब 400 सैलानी मंदार का भ्रमण कर रहे थे। पिछले 4 दिनों से मंदार में लगे रोप-वे में तकनीकी खराबी की वजह से परिचालन बंद कर दिया गया है। 21 सितंबर 2021 को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा मंदार में रोपवे सेवा का भव्य तरीके से उद्‌घाटन किया गया था। स्वयं सीएम रोपवे में बैठकर पर्वत के शिखर तक गए थे। उनके साथ कई मंत्री गण भी मंदार पर्वत पर गए थे। जिसके अगले दिन 22 सितंबर से पर्यटकों एवं आम लोगों के लिए रोपवे सेवा आरंभ कर दिया गया था। रोपवे के कर्मियों के अनुसार प्रतिदिन 30 से 35 हजार का राजस्व मंदार रोपवे से पर्यटन विभाग को प्राप्त हो रहा था। रोपवे के प्लेटफार्म गेट पर ताला लगा हुआ है। विभिन्न प्रांतों से आने वाले हिन्दू व जैन तीर्थ यात्री को रोपवे नहीं रहने की वजह से पालकी में सवार होकर मंदार पर्वत शिखर सहित भगवान वासुपूज्य मंदिर का अवलोकन करना पड़ रहा है। जानकारी हो कि सितंबर माह से ही जैन तीर्थ यात्रियों का जत्था मंदार भ्रमण को आना आरंभ हो जाता है। प्रतिदिन काफी संख्या में जैन तीर्थ यात्री मंदार आ रहे हैं। शनिवार को महाराष्ट्र से आई मुकी जैन एवं ऐवल जैन पालकी से मंदार जा रही थी। बताया कि रोपवे खराब हो जाने के कारण 80 रुपए की जगह 1200 देकर डोली से सफर कर रहे हैं। रिजवान, रौनक, सोहेल, आशीष खड़िहारा, प्रतीक भागलपुर, राजू गोड्डा, पिंटू कुमार, उदय मंडल अमरपुर से आए लोगों ने बताया कि वे सभी मंदार में लगे रोपवे का ही आनंद उठाने आए थे लेकिन निराश होकर लौटना पड़ा। मंदार में रोपवे का संचालन राइट्स कंपनी के द्वारा किया जा रहा है।

चेन्नई से कोलकाता लाया जाएगा पैनल
राइट्स के प्रोजेक्ट इंचार्ज संजीव कुमार ने कहा इलेक्ट्रॉनिक पैनल डिवाइस खराब हो गया। जिसे बदलने के लिए कोलकाता को संबंधित लोगों को सूचना दे दी गई है लेकिन वहां भी पैनल नहीं मिला। पता करने के बाद चेन्नई मैं पैनल मिला है, जो हवाई मार्ग से शनिवार को कोलकाता पहुंच जाएगा और रविवार शाम तक पैनल को लेकर इंजीनियर के मंदार पहुंचने की संभावना है। एक-दो दिन में रोपवे चालू हो जाएगा।

खबरें और भी हैं...