मारपीट का मामला:बिजली विभाग के जेई को 1 घंटे बंधक बनाया

चौसा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • चौसा पूर्वी पंचायत के लक्ष्मीनिया टोला में गए थे बिजली बिल की वसूली करने

बकाया बिजली बिल की राशि वसूली के दौरान जेई को बंधक बनाकर मारपीट करने का मामला प्रकाश में आया है। घटना शनिवार की देर शाम को चौसा पूर्वी पंचायत के लक्ष्मीनिया टोला में हुई। सूचना पाकर घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने बंधक बनाए गए जेई को मुक्त कराकर उन्हें थाने ले गई। बताया गया कि छह मार्च को जेई पांडव कुमार अपने कई बिजली मिस्त्री के साथ उपभोक्ताओं पर बकाया बिजली बिल की राशि वसूली करने के लिए चौसा पूर्वी पंचायत के लक्ष्मीनिया टोला गए थे। राशि वसूली के दौरान जेई जब मानव बल के साथ लक्ष्मीनिया टोला पहुंचे तो वहां कुछ लोगों ने अधिक बिल होने का विरोध जताया। उसी बिल को जमा कराने को लेकर दोनों पक्षों में नोकझोंक होने लगी। इसी क्रम में कुछ लोगों ने जेई को कुछ समय के लिए बंधक बना लिया। बाद में किसी ने घटना की जानकारी पुलिस को दे दी। इसके बाद घटनास्थल पर पहुंचकर पुलिस ने बंधक बनाए गए जेई को मुक्त कराया। जेई पांडव कुमार ने चौसा थाने में लिखित आवेदन देकर पांच लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। उनका आरोप है कि अरुण कुमार चौधरी, सुझालू कुमार चौधरी, रणवीर कुमार, पंकज रजक व गौरव कुमार सहित अन्य ने घटना को अंजाम दिया। उनका कहना है कि बिजली बिल के बकाया राशि नहीं देने पर उक्त लोगों ने जबरन मारपीट करना शुरू कर दिया और पॉकेट से रुपए एवं गले से चेन छीन लिया। जेई पांडव कुमार ने बताया कि घटनाक्रम की सारी जानकारी अपने वरीय पदाधिकारियों को भी दे दी है। सूचना पाते ही विद्युत विभाग उदाकिशुनगंज के अधिकारी ने दोषियों पर कार्रवाई की मांग की। इस संबंध में थानाध्यक्ष रवीश रंजन ने बताया कि आवेदन के आधार पर पांच लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...