लापरवाही:मनरेगा से बनी सड़क को जमीन मालिक ने काटकर खेत में मिलाया, न्याय की गुहार

चौथम22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • चौथम के नवादा गांव की घटना, मनरेगा से बनी थी ईंट सोलिंग सड़क

थाना क्षेत्र के नवादा गांव में निजी जमीन पर वित्तीय वर्ष 2017 -18 में मनरेगा योजना से बने ईंट सोलिंग सड़क को भूमि विवाद में भू-स्वामी ने तोड़ कर खेत में मिला दिया। ग्रामीणों द्वारा इसका विरोध करने पर जमीन मालिक गाली गलौज करते हुए हिंसक रूप अख्तियार कर लिया। सड़क काटे जाने के विरोध में गांव के सैकड़ों महिला पुरुष न्याय की गुहार लगाने थाना पहुंच गए। चौथम पंचायत के निवर्तमान मुखिया पति बजरंगी सिंह ने बताया कि वर्ष 2017-18 में पंचायत मनरेगा योजना से नवादा गांव स्थित सामुदायिक बैठक से चमरू सिंह घर तक मिट्टी भराई ईंट सोलिंग से सड़क का निर्माण कराया गया था। सड़क निर्माण के दौरान जमीन मालिक मंजूश सिंह ने सड़क में पड़ने वाले एक कट्ठा जमीन में चार धूर जमीन स्वेच्छा से दिया था। शेष 16 धूर जमीन के बदले राजो सिंह अपनी जमीन केवाला कर देने के निर्णय पर सड़क का निर्माण कराया गया था। सड़क निर्माण के बाद एग्रीमेंट के तहत 16 धूर जमीन राजो सिंह द्वारा नहीं किए जाने को लेकर जमीन मालिक मंजूश सिंह उनकी पत्नी रेणु देवी पुत्र अभिमन्यु कुमार एवं छोटू सिंह ने अपनी जमीन में पड़ने वाली 70 फीट सड़क को काट कर खेत में मिला लिया। मामले में थानाध्यक्ष मुरारी कुमार ने जमीन मालिक को काटे गए सड़क पर मिट्टी भराई कर आवागमन लायक बना देने का निर्देश दिया है।

खबरें और भी हैं...