लापरवाही:प्रसूता की मौत के मामले में नहीं हुई कार्रवाई

धोरैया20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सीएचसी में शनिवार को हुई थी मौत, एएनएम पर लापरवाही का आरोप

सीएचसी में प्रसूता की मौत के बाद मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा कार्रवाई करते हुए भले ही धोरैया के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. मनेष कुमार पोद्दार को उनके पद से हटा कर उनके जगह पर बाराहाट के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. एसएस दास को नियुक्त किया गया। नए प्रभारी के द्वारा प्रभार ग्रहण कर स्वास्थ्य केंद्र के व्यवस्था में सुधार को लगातार प्रयासरत भी है। लेकिन चार दिन बीत जाने के बाद भी इस मामले में एएनएम शालिनी प्रिया, सोनी कुमारी, अनु कुमारी सहित अन्य पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। ज्ञात हो कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र धोरैया में शनिवार की देर रात एक प्रसूता गोनरचक गांव निवासी कैलाश पासवान की 22 वर्षीय पुत्री अंजली कुमारी की मौत हो गई थी। इसके बाद रविवार की सुबह ग्रामीणों ने स्वास्थ्य केंद्र परिसर में हंगामा मचाते हुए धरना-प्रदर्शन कर विरोध जताया था। रविवार सुबह से दोपहर तक भाकपा नेता मुनीलाल पासवान के नेतृत्व में परिजन धरना पर बैठ गए तथा चिकित्सक व स्वास्थ्य प्रबंधक सहित एएनएम पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की थी। धरना-प्रदर्शन की सूचना पर एसीएमओ अभय प्रकाश चौधरी धोरैया अस्पताल पहुंचे। जहां प्रदर्शन कर रहे लोगों ने आवेदन दिया था। जिस पर उन्होंने उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया था। जिसके बाद पूर्व एमएलसी संजय कुमार धोरैया अस्पताल पहुंंचे।

एक-दो दिन में जांच कर दोषी पर होगी कार्रवाई
फिलहाल प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को बदल दिया गया है। बांकी पर जांच के लिए कमेटी बनाई गई है। एक दो दिनों में जांच कर दोषी पर कार्रवाई की जाएगी।
अभय प्रकाश चौधरी, एसीएमओ

खबरें और भी हैं...