पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खबर का असर:वन विभाग ने धनतोला में लगाया अस्थायी कैंप

दिघलबैंक3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रभावित क्षेत्र का दौरा करते वन विभाग के पदाधिकारी। - Dainik Bhaskar
प्रभावित क्षेत्र का दौरा करते वन विभाग के पदाधिकारी।
  • सीमावर्ती क्षेत्र में लगातार हाथियों के झुंड पहुंचने की भास्कर की खबर पर लिया संज्ञान

दिघलबैंक के सीमावर्ती क्षेत्रों में लगातार हाथियों के झुंड के पहुंचने एवं घरों एवं फसलों को क्षति पहुंचाने की खबरों पर जिला प्रशासन के बाद अब वन विभाग ने भी संज्ञान लिया है। मंगलवार को वनों के क्षेत्र पदाधिकारी उमानाथ दूबे और उनके साथ वन कर्मियों ने प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने पीड़ित लोगों को हाथियों से हुए घर और फसल क्षतिपूर्ति को लेकर मिलने वाले मुआवजा को लेकर प्रकिया की जानकारी दी। कहा कि जैसे ही अंचल कार्यालय से क्षति का आकलन कर रिपोर्ट मिल जाती है, पीड़ित परिवार को राहत राशि उपलब्ध करा दिया जाएगा। वहीं मंगलवार की शाम से धनतोला पंचायत भवन में वन कर्मियों का अस्थायी कैम्प लगा दिया गया है। जहां वन कर्मियों के अलावा वॉलेंटियर क्षेत्र में हाथियों को आने से पहले नेपाल की ओर ड्राइव करने का प्रयास करेंगे। लोगों को बचाव के लिए जागरूक करने का काम करेंगे। वन विभाग द्वारा इन कर्मियों व वॉलेंटियर के रहने के लिए धनतोला पंचायत भवन में अस्थायी कैंप लगाया है। शिविर में एक वनकर्मी के साथ 10 वॉलेंटियर दिए गए: कैंप में एक वनकर्मी सहित दस वॉलेंटियर हैं। ये सभी प्रशिक्षित हैं एवं वन्य पशुओं के व्यवहार के जानकार हैं। हाथियों के झुंड के लगातार हमले की खबर प्रकाशित होने के बाद सोमवार को जिला पदाधिकारी ने वन पदाधिकारी को स्पष्टीकरण देने का निर्देश दिया था। सोमवार की रात भी हाथियों का झुंड क्षेत्र में पहुंचा एवं तीन घरों को क्षतिग्रस्त कर लहलहाती फसलों को रौंद दिया था। वहीं दूसरी ओर विगत एक सप्ताह से दिघलबैंक के सीमावर्ती क्षेत्र के ग्रामीण हाथियों के डर से जहां रतजगा कर रहे थे वहीं मक्के की सीजन तक अस्थायी कैंप निर्माण की मांग वन विभाग से कर रहे थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें