पहल:उन्मुखीकरण कार्यक्रम में 80 युवाओं को दिया गया प्रशिक्षण

फारबिसगंज15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एचआईवी से पीड़ित के उपचार व इससे बचाव को लेकर प्रतिभागियों को दी गई जानकारी

गैर विद्यालय युवा कार्यक्रम के तहत जिला एड्स बचाव एवं नियंत्रण इकाई के तत्वावधान में कार्यक्रम का आयोजन हुआ। बुधवार को एएनएम ट्रेनिंग स्कूल में नेहरू युवा केन्द्र के युवाओं में एचआईवी एड्स एवं रक्तदान विषय पर उन्मुखीकरण कार्यक्रम आयोजित की गई। जिसका शुभारंभ सीएस डॉ एमपी गुप्ता, जिला वेक्टर नियंत्रण पदाधिकारी डॉक्टर अजय सिंह, डीपीएम एड्स अखिलेश सिंह, जिला क्षेत्रीय पदाधिकारी रिजवान ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया।

कार्यक्रम में 80 युवाओं को एड्स एवं रक्तदान पर प्रशिक्षण के बाद प्रशस्ति पत्र प्रदान किया। इस मौके पर सीएस व डीपीएम ने एचआईवी से बचाव के लिए विभिन्न उपायों पर विस्तृत चर्चा किया। साथ ही साथ रक्तदान के फायदे भी बताए। वहीं क्षेत्रीय पदाधिकारी मो. रिजवान और उमाकांत शर्मा ने एचआईवी रोकथाम और नियंत्रण अधिनियम 2017 के विभिन्न धाराओं को विस्तार पूर्वक बताते हुए कहा कि एड्स पीड़ित व्यक्ति को कानून के तहत कई अधिकार दिए गए हैं।

जिसकी अवहेलना नहीं की जानी चाहिए। उन्होंने रक्तदान करने के फायदे को ही बताया। उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्तर पर यदि कोई व्यक्ति एचआईवी एड्स से पीड़ित है तो उनका उपचार कैसे हो इस बात की जानकारी मुहैया कराना हम सबों की जिम्मेदारी है। डॉ. अजय सिंह ने कहा कि हमें आज एचआईवी से बचने के तरीकों को अपनाकर खुद को और समाज को सुरक्षित रखने की आवश्यकता है।

उन्होंने एचआईवी पीड़ितों के हित में काम करने तथा सरकारी योजनाओं से जोड़ने में अपनी भूमिका अदा करने का आह्वान किया। इस मौके पर उपाधीक्षक डॉ रेश्मा अली, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ आशुतोष कुमार, प्रबंधक नाजिश नियाज, खतीब अहमद, प्रखंड स्वंयसेवक राजीव कुमार, सत्यप्रकाश कुमार के अलावे विकास कुमार विक्की, आनंद मोहन, राकेश कुमार, बैद्यनाथ मंडल, नरेश कुमार, सचिन, मनीष, नवीन आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...