पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राहत:आठ दिन बाद सफाई कर्मचारियों की हड़ताल खत्म

फारबिसगंज4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हड़ताल खत्म कर काम लौटने के दौरान नप कर्मी। - Dainik Bhaskar
हड़ताल खत्म कर काम लौटने के दौरान नप कर्मी।
  • हाईकोर्ट के संज्ञान लेने के आठवें दिन अपने-अपने काम पर लौटे नगर परिषद के कर्मचारी

12 सूत्री मांगों को लेकर बिहार लोकल बॉडीज कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा एवं बिहार राज्य स्थानीय निकाय कर्मचारी महासंघ के संयुक्त आह्वान पर अनिश्चितकालीन हड़ताल 8वें दिन हाईकोर्ट के संज्ञान के बाद ख़त्म हो गयी। जहां शाम तीन बजे के बाद फारबिसगंज नप में सभी कर्मी काम पर वापस लौट गये। इस मौके पर बिहार लोकल बाडीज कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा के संगठन मंत्री सूरज कुमार सोनु ने बताया कि पटना उच्च न्यायालय के आदेश का सम्मान करते हुए हमलोगों ने हड़ताल वापस ले लिया है। सभी कर्मी काम पर लौट गए हैं। जहां न्यायालय ने नगर विकास एवं आवास विभाग तथा पटना नगर निगम प्रबंधन को निर्देश दिया कि चार सप्‍ताह के अंदर सफाई कर्मियों की मांगों पर निर्णय लें। ज्ञात हो कि शहर में हड़ताल के कारण सड़कों पर गलियों में कचरे का अंबार लग गया था जहां सरकार ने कई राउंड में हड़ताली कर्मचारियों के संगठन से बातचीत की, लेकिन इसका कोई नतीजा नहीं निकल सका। इस मौके पर अध्यक्ष कृष्णानंद मंडल, चन्द्रनाथ चन्दन प्रभारी प्रधान सहायक, विनय सिन्हा, सत्यप्रकाश, संजय जायसवाल, अमित कुमार, वसीम अहमद, रंजीत सहनी, दिनेश वर्मा, मनोहर राज, रजनीश रंजन, राहुल राम, परमानंद कुंवर, गजेंद्र सिंह सहायक, राज कुमार दास, हरिकांत झा, तारिक अनवर, शिव शंकर तिवारी सहायक, योगानंद मंडल पूर्व अमीन, आर्यन कुमार राय प्रभारी नाजिर, अमरनाथ झा पूर्व अध्यक्ष, सुवेश पासवान सफाई जमादार, गुलाम मुस्तफा सफाई कर्मी, बिंदेश्वरी मरीक, उपेंद्र मरीक, कन्हैया मारीक, भीम मरीक, संजय मरीक, बसन्त मरीक, लक्ष्मी मरीक, फटकन मरीक, निर्मला देवी, मुर्शीद अंसारी, संजय मरीक, शंकर, बीना देवी, हेमा देवी, तेतरी देवी, शंकर मरीक, संतोष मरीक, राजेश मरीज, चंद्रदेव मरिक, परमेश मरिक सहित दर्जनों कर्मी शामिल थे।

खबरें और भी हैं...