जयंती पर याद किये गए माहेश्वरी:इन्द्रधनुष साहित्य परिषद ने किया श्रद्धासुमन अर्पित

फारबिसगंज7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

स्थानीय प्रोफेसर कॉलोनी में साहित्यकार द्वारिका प्रसाद माहेश्वरी की जयन्ती इन्द्रधनुष साहित्य परिषद के तत्वावधान में बाल साहित्यकार हेमन्त यादव ‘शशि’ की अध्यक्षता में मनायी गई। जिसका संचालन विनोद कुमार तिवारी ने किया। इस अवसर पर माहेश्वरी के तैल चित्र पर साहित्यकारों एवं साहित्य-प्रेमियों के द्वारा श्रद्धासुमन अर्पित किया गया। इस मौके पर उनकी जीवनी पर प्रकाश डालते हुए साहित्यकार हेमन्त यादव एवं प्रधानाध्यापक हर्ष नारायण दास ने कहा कि कवि द्वारिका प्रसाद का जन्म 01 दिसम्बर 1916 ई० को आगरा के रौहता गांव में हुआ था। वे बाल्यावस्था से ही मेधावी और अन्यत्त्म थे।

राष्ट्र के भावी भविष्य की नौका को गति देने के उद्देश्य से उन्होंने बाल साहित्य का पतवार संभाली और लगभग 50 वर्ष तक रोचकता की चाशनी में बालकों को नैतिक मूल्य और मानवता का पाठ परोसते रहे। उन्होने सूरज-चाँद बनाया, हम सब सुमन एक उपवन के, इतने ऊँचे उठो कि जितना ऊँचा गगन जैसे अद्भुत और अभूतपूर्व कविता लिखा।

खबरें और भी हैं...