कार्रवाई:पूर्णिया से भाड़े पर अपराधी बुलकार फोरलेन पर घटनाओं को अंजाम देने वाले गिरोह के दो गिरफ्तार, दो मोबाइल भी बरामद

फारबिसगंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गिरफ्तार अपराधियों से पूछताछ करते थानाध्यक्ष व अन्य। - Dainik Bhaskar
गिरफ्तार अपराधियों से पूछताछ करते थानाध्यक्ष व अन्य।
  • अंतरजिला गिरोह से गिरफ्तार अपराधियों का संपर्क, लॉज में रहकर घटनाओं को देता था अंजाम

थाना क्षेत्र के तीन अलग अलग स्थानों पर हथियार के बल पर लूट की घटना में शामिल गिरोह का पुलिस ने उद्भेदन करते हुए लूट की मोबाइल सहित दो अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी नरपतगंज थाना क्षेत्र के पलासी में की गई। हालांकि अपराधियों के गिरोह द्वारा पूर्णिया से अपराधियों को भाड़े पर बुलाकर दिनदहाड़े लूट की घटना को अंजाम दिए जाने की जानकारी दी गई है। गिरफ्तार अपराधियों में नरपतगंज थाना क्षेत्र के पलासी निवासी चंदन कुमार यादव पिता गिरिजानंद यादव एवं राजीव कुमार यादव पिता स्व. लीलानंद यादव शामिल हैं। जबकि गिरोह में शामिल नरपतगंज के गड़गामा निवासी सागर यादव एवं फारबिसगंज थाना क्षेत्र के भद्रेश्वर निवासी सोहेल मिश्रा उर्फ शुभम भी शामिल हैं जो सभी फरार बताया गया है।

लगातार तीन घटनाओं को अंजाम देकर दी थी चुनौती
गिरोह द्वारा लूट की तीन घटनाओं को अंजाम पुलिस को चुनौती दे डाला था। जिसके बाद पुलिस तकनीकी रूप से अनुसंधान शुरू किया। जिसके बाद गिरोह का पटाक्षेप संभव हो सका। थानाध्यक्ष ने गिरफ्तार दोनों अभियुक्तों को न्यायिक हिरासत में जेल भेजने की जानकारी दी।

लूट में करता था हथियारों का प्रयोग
थानाध्यक्ष ने गिरफ्तार अभियुक्तों से पूछताछ में घटना में दोनों के शामिल रहने की बात कही। इसके अलावा पूर्णिया से अपराधियों को भाड़े पर मंगाकर घटना को अंजाम देने की जानकारी देते हुए इसमें दो सदस्यों की सक्रियता की जानकारी दी। थानाध्यक्ष ने गिरोह के सदस्यों के द्वारा छात्र बनकर फारबिसगंज के एक लॉज में रहते हुए अपराध किए जाने की बात कही। लूट के दरम्यान जिस हथियार का इस्तेमाल किया जाता था उक्त हथियार एवं बाइक सागर यादव के पास होने का संदेह जताया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार गड़गामा के सागर यादव के बड़े भाई विपिन यादव को इससे पहले फारबिसगंज थाना से दूसरे मामले में जेल भेजा गया है।

कब और किसके साथ हुई लूट की घटना
06 सितंबर :
गिरोह के सदस्यों के द्वारा विगत छह सितंबर को फारबिसगंज-नरपतगंज फोरलेन पर भजनपुर के समीप बजाज ऑटो फाइनेंस कर्मी व हरिपुर निवासी मो. जमशेद आलम से हथियार के बल पर दिनदहाड़े बीस हजार रुपये नगद के अलावा एक लैपटॉप एवं मोबाइल सहित कागजात की लूट हुई।

10 सितंबर : फारबिसगंज के कॉलेज चौक के समीप फोरलेन स्थित ओवरब्रिज पर भरगामा अंचल कार्यालय के डाटा एंट्री ऑपरेटर व नरपतगंज के पिठौरा निवासी संतोष साह के साथ मारपीट करते हुए बाइक एवं मोबाइल लूटा।

13 सितंबर : थाना क्षेत्र के परवाहा से महज दो किलोमीटर पूरब झरना पुल के समीप मुसहरी पंचायत निवासी सह व्यवसायी राकेश कुमार मेहता पिता ब्रह्मदेव मेहता से हथियार के बल पर पंद्रह हजार रुपए लूटने के साथ ही विरोध जताने पर मारपीट कर घायल कर दिया था। उक्त घटना को तब अंजाम दिया गया था जब युवा व्यवसायी राकेश परवाहा हाट स्थित अपना प्रतिष्ठान बंद कर बाइक से घर लौट रहा था। इस घटना में भी पांच से छह अपराधी शामिल थे।

खबरें और भी हैं...