पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पंचायत चुनाव:समथर्कों के बदलने से भी बिगड़ रहा चुनावी गणित

हेमजापुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

समर्थकों के बदलने से धरहरा प्रखंड क्षेत्र के पंचायतों का चुनाव काफी दिलचस्प व अप्रत्याशित हो जा रहा है। जीत का सेहरा किसके सर बंधेगा यह गणित काफी उलझा हुआ है। 2016 में हुए पंचायत चुनाव में कई लोग एक दूसरे के प्रबल विरोधी रहे थे। तो चुनाव उस वक्त लोजपा, भाजपा, रालोसोपा महागठवंधन के तहत अंदर ही अंदर रहे पार्टी सर्मथकों को समर्थन दिया जा रहा था। लेकिन इस बार परिदृष्य बदला सा है। 2020 के विधान सभा चुनाव में समर्थकों ने पाला बदल लिया था। राजद के कभी प्रबल विरोधी रहे लोजपा अब राजद के साथ मधुर रिश्ते के प्रयास में है। तो जदयू को समर्थन देने वाली राजद तथा कांग्रेस कमोवेश अगल-थलग है। ऐसे में अगर पिछले 30 साल का इतिहास को देंखें तो राजद यथा जदयू दोनों ने 15-15 साल लगातार, जीत हासिल की है। ऐसी स्थिति में जीत के दावा की गणित को गड़बड़ मानने वाले चुनावी पंडित राम बिलास मंडल का मानना है कि इस बार परिदृश्य बदला नजर आएगा। क्योंकि यह पुरानी कहावत है कि राजनीति में ना तो कोई किसी का दुश्मन होता है और ना कोई किसी का दोस्त, अवसर की तलाश में अक्सर चेहरे बदलते रहते हैं।

खबरें और भी हैं...