दुर्व्यवहार:बीसीएम ने एएनएम के साथ की मारपीट, विरोध में गुस्साए एएनएम ने वैक्सीनेशन कार्य किया बंद

जमुई13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गुरुवार को घटना के बाद रोती-बिलखती पीड़ित एएनएम। - Dainik Bhaskar
गुरुवार को घटना के बाद रोती-बिलखती पीड़ित एएनएम।
  • जांच के लिए बीडीओ व अस्पताल प्रभारी पहुंचे रेफरल अस्पताल, कहा- दुर्भाग्यपूर्ण है घटना
  • 5 जनवरी को ड्यूटी पर एएनएम के नहीं आने से आग-बबूला थे बीसीएम

चकाई रेफरल अस्पताल के बीसीएम ने एएनएम से मारपीट की। वहां मौजूद लोगों ने बड़ी मशक्कत के बाद बीसीएम को पकड़ कर एएनएम को बचाया, फिर घटना की जानकारी अस्पताल के मैनेजर ने अस्पताल प्रभारी को दी। इधर, घटना के विरोध में गुरुवार को सभी एएनएम ने वैक्सीनेशन कार्य नहीं करने की बात कहते हुए विरोध किया और काम बंद कर दिया। बता दें कि अस्पताल के बीसीएम सुनील प्रसाद गुरुवार की सुबह कोविड-19 वैक्सीनेशन ड्यूटी में कार्यरत एएनएम अंबालिका कुमारी के साथ अचानक मारपीट और गाली-गलौज करने लगे। बीसीएम के अभद्र व्यवहार और मारपीट के खिलाफ सभी एएनएम एकजुट होकर वैक्सीनेशन कार्य नहीं करने का निर्णय लेते हुए बीसीएम पर कार्रवाई की मांग करने लगीं। बताया जाता है कि बुधवार को किसी कारणवश एएनएम अंबालिका कुमारी ड्यूटी पर नहीं आ सकी थी इसी बात पर अस्पताल मैनेजर के सामने ही कई कर्मियों के सामने ही बीसीएम सुनील प्रसाद ने एएनएम अंबालिका कुमारी के साथ मारपीट और गाली-गलौज के बाद मारपीट शुरू कर दी।

आरोप : गंदी नीयत से देखते हैं बीसीएम
इस घटना से सभी एनएम एकजुट हो गई और रेफरल अस्पताल में वैक्सीनेशन का कार्य बंद कर दिया। एएनएम का आरोप है कि बीसीएम महिला कर्मियों को गंदी नजर से देखते हैं और रात में बात करने का दवाब बनाते हैं। बात नहीं करने पर अनुपस्थित कर देने, सहित कई प्रकार की धमकी देते हैं। बीसीएम के इस हरकत से सभी एएनएम परेशान हैं और कार्रवाई की मांग कर रही है। वहीं इस संबंध में आरोपी बीसीएम का कहना है कि एएनएम अंबालिका कुमारी पहले उनके साथ मारपीट की जिसका बदला लेने के लिए उन्होंने मारपीट किया है। अस्पताल में महिला कर्मी के साथ मारपीट करने की घटना को सभी दुर्भाग्यपूर्ण घटना मान रहे हैं और कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

वरीय अधिकारी को भेजी जाएगी रिपोर्ट

इधर, रेफरल अस्पताल प्रभारी डॉ. बीके राय, बीडीओ दुर्गाशंकर प्रसाद रेफरल अस्पताल पहुंचे और एएनएम से घटना की जानकारी ली। एएनएम ने वरीय पदाधिकारी को लिखित आवेदन देते हुए बीसीएम के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। जांच के बाद रेफरल अस्पताल के प्रभारी डॉ. बीके राय ने बताया कि इस तरह की घटना दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। दोनों पक्ष से पूछताछ कर मामले की जांच की जा रही है। आगे ऐसी घटना की पुनरावृत्ति न हो इसलिए जांच के बाद दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं, बीडीओ दुर्गाशंकर प्रसाद ने भी कहा कि इस तरह की घटना नहीं होनी चाहिए थी। जांच रिपोर्ट वरीय पदाधिकारी को भेजी जाएगी।

डीएम को दी है सूचना जांच कर होगी कार्रवाई
जिला स्वास्थ्य समिति के प्रबंधक सुधांशु नारायण लाल ने बताया कि रेफरल अस्पताल के प्रभारी द्वारा इस घटना की सूचना मिली है। घटना की जानकारी जिलाधिकारी को भी दे दी गई है। मामले की जांच के बाद जो भी दोषी होंगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इधर, सूचना मिलने के बाद डीएम अवनीश कुमार सिंह ने मामले की जांच की जिम्मेवारी डीडीसी आरिफ अहसन को दी है।

खबरें और भी हैं...