पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

परेशानी:सड़क की सुविधा नहीं होने से अटक जाती है शादी की बात, गांव छोड़ रहे हैं ग्रामीण

गिद्धौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्वी कोल्हुआ गांव जाने वाली कच्ची सड़क। - Dainik Bhaskar
पूर्वी कोल्हुआ गांव जाने वाली कच्ची सड़क।
  • पूर्वी कोल्हुआ गांव जाने वाली कच्ची सड़क की खराब हालत देख लौट गए लड़की पक्ष के लोग

प्रखंड के कोल्हुआ पंचायत में एक ऐसा गांव है, जहां शादी के लिए रिश्ते तो आते हैं लेकिन कोई शादी करने को राजी नहीं हो रहा है, चाहे वो लड़का पक्ष हो या लड़की पक्ष। इतना ही नहीं जिनकी शादी हो गई है वे भी अब इस गांव में आना पसंद नहीं करते। इसके पीछे की वजह है कि इस गांव तक जाने के लिए सड़क नहीं है। कोल्हुआ पंचायत के पूर्वी कोल्हुआ गांव जाने वाल कच्ची सड़क करीब 3 किलोमीटर लंबी है। बरसात के दौरान इसकी हालत इतनी खराब हो जाती है कि गांव वालों को सड़क होकर गुजरने के लिए सोचना पड़ता है। इसके चलते गांव में शादी के लिए रिश्ते तो आते हैं लेकिन आवागमन की असुविधा पर बात आकर अटक जाती है और आखिर में रिश्ता टूट जाता है।

स्थानीय ग्रामीण भी गांव से नहीं करते बिटिया की शादी

ग्रामीण जगदेव साह के पुत्र कुंदन साह, विमल मिश्रा ने बताया कि भागलपुर से आए लड़की के पिता ने सिर्फ गांव में सड़क नहीं रहने के कारण अपने बेटी की शादी करने से इंकार कर दिया। उनका लड़का पढ़ा-लिखा है, नौकरी भी करता है। लेकिन सड़क खराब होने के चलते अपनी बेटी को इस गांव में शादी करना नहीं चाहता हैं। वहीं, स्थानीय ग्रामीण भी अपनी बेटी की शादी अपने घर में ना कर दूसरी जगह से करते हैं। बदहाल सड़क के कारण लड़के के घरवालों ने इस गांव में जाने से ही मना कर दिया। सड़क निर्माण को लेकर के गांव वालों में भारी गुस्‍सा है। ग्रामीणों ने कहा कि विधायक मंत्री से लेकर प्रशासन से भी शिकायत करने के बावजूद कोई हल नहीं निकला। हालांकि स्थानीय लोगों का कहना है कि उक्त रोड में आम गैरमजरूआ जमीन भी है जिसे समाज के कुछ लोग अपने नाम करा लिया है।

खबरें और भी हैं...