पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

लापरवाही:सड़क दुर्घटना में व्यक्ति के हाथ और पैर की टूटी हड्‌डी, बेहोशी की सुई लगाते हो गई मौत, हंगामा

जमुई13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार को क्लीनिक में इलाज के दाैरान युवक की मौत के बाद रोते-बिलखते परिजन।
  • हंगामे के बाद डाॅक्टर और कर्मी क्लीनिक छोड़कर भागे, पुलिस की पहल पर लोगों को कराया गया शांत
  • परिजनों ने कहा-दवा का अधिक डोज देने के कारण हुई है मौत

सोमवार की देर शाम सड़क दुर्घटना में घायल एक व्यक्ति को इलाज के लिए निजी क्लीनिक ले जाया गया। जहां इलाज के क्रम में देर रात उक्त व्यक्ति की मौत हो गई। घटना से आक्रोशित परिजन निजी क्लीनिक के डाक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए क्लीनिक में हंगामा करना शुरू कर दिया। हंगामा को देख डाक्टर और अन्य कर्मी क्लीनिक छोड़कर भाग निकले। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस परिजनों को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया। मामला शहर के महिसौड़ी रोड़ स्थित जया ऑर्थो केयर सेंटर का है। बताया जाता है कि सिकंदरा थाना क्षेत्र के पोहे गांव निवासी अरविंद कुमार सिंह सोमवार को अपने चचेरे भाई पप्पू कुमार सिंह के साथ बाइक पर सवार होकर जमुई अपने निजी काम के आया था। शाम करीब 4 बजे जब बाइक से वह वापस अपने घर लौट रहा था तभी जमुई-सिकंदरा मुख्य मार्ग के बलुआडीह के समीप पीछे से आ रही एक ऑटो ने बाइक में जोरदार टक्कर मार दी। घटना के बाद मौके से ऑटो लेकर चालक फरार हो गया। स्थानीय लोगों की मदद से घायल अरविंद सिंह और उसके भाई पप्पु कुमार सिंह को इलाज के लिए महिसौड़ी स्थित जया ऑर्थो केयर सेंटर में भर्ती कराया गया।

निजी क्लीनिक ने नहीं दी मामले की पुलिस को सूचना
सड़क दुर्घटना में घायल दो युवक के क्लीनिक में भर्ती होने के बाद भी निजी क्लीनिक के डाक्टर पुलिस को इसकी सूचना नहीं दी। बिना पुलिस को सूचित किए क्लीनिक में भर्ती भी लिया और उसका ट्रीटमेंट भी शुरू कर दिया। हालांकि डाक्टर की पहली प्राथमिकता घायल का इलाज करना था। लेकिन देर रात करीब 10 बजे जब घटना घटी तब भी डाक्टर द्वारा इसकी सूचना पुलिस को नहीं दी गई। ऐसे में निजी क्लीनिक के डाक्टर की लापरवाही साफ तौर पर दिख रही है।

अरविंद सिंह की मौत की खबर सुनते ही परिजन हो गए आक्रोशित
इधर इलाज के दौरान देर रात सड़क दुर्घटना में घायल अरविंद सिंह को ऑपरेशन के लिए इंजेक्शन दिया तभी अरविंद सिंह की मौत हो गई। डॉक्टर राजेश रंजन ने बताया कि मृतक अरविंद सिंह का दाहिना हाथ तथा पैर टूट गया था और उसका ऑपरेशन करना था, इसलिए उसे बेहोशी का इंजेक्शन दिया गया। जिसके बाद अरविंद सिंह की हालत गंभीर होने के बाद उसकी मौत हो गई। इधर अरविंद सिंह के मौत की खबर सूनते ही परिजन आक्रोशित हो गए और क्लीनिक में हंगामा करने लगे। सभी डाक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए अधिक डोज में बेेहोशी की सूई देने के कारण मौत होना बताते हुए हंगामा कर रहे थे।

क्लीनिक के चिकित्सक व कर्मियों ने की परिजनों केे साथ हाथापाई
मरीज की मौत से आक्रोशित परिजन जैसे ही क्लीनिक में हंगामा करना शुरू किया। डाक्टर और कर्मी मरीज के परिजनों के साथ हाथापाई करने लगे। बात अधिक बढ़ने पर डाक्टर और निजी क्लीनिक में कार्यरत कर्मी मृतक के परिजनों के साथ हाथापाई करते हुए क्लीनिक छोड़कर भाग निकले। घटना की जानकारी के बाद सदर थाना के अवर निरीक्षक संजीव कुमार सिंह अपने दल बल के साथ मौके पर पहुंचकर हंगामा कर रहे लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया। साथ ही उनके शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। वहीं मृतक के भाई को इलाज के लिए दूसरे क्लीनिक ले जाया गया जहां उसका इलाज किया गया।

परिजनों से आवेदन मिलने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी
घटना को लेकर मृतक के शव का पोस्टमार्टम पुलिस द्वारा कराया गया और शव को परिजनों को सौंप दिया गया है। इस मामले में अबतक पीड़ित परिवार द्वारा किसी प्रकार का लिखित आवेदन नहीं दिया गया है। आवेदन मिलने के बाद पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी।
-चंदन कुमार, थानाध्यक्ष, टाउन थाना

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें