पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जानलेवा लापरवाही:जन औषधि केंद्र संचालक ने कुत्ते को देने वाला एंटी रेबीज इंजेक्शन बच्चे को लगाया

जमुई13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सदर अस्पताल में पिता के साथ पीड़ित बच्चा। - Dainik Bhaskar
सदर अस्पताल में पिता के साथ पीड़ित बच्चा।
  • सदर अस्पताल में इंजेक्शन नहीं रहने पर परिजन बच्चे को लेकर पहुंचे जन औषधि केंद्र
  • जहां 160 रुपए लेकर कुत्ते को लगने वाला इंजेक्शन लगा दिया

जिले में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही बेलगाम है। स्वास्थ्य विभाग लोगों के स्वास्थ के साथ जानलेवा खिलवाड़ कर रही है। बुधवार को सदर प्रखंड क्षेत्र के पद्मावत गांव निवासी नकुल राम अपने बेटे विशाल कुमार (8 वर्ष) को कुत्ते के काटने पर इंजेक्शन दिलवाने के लिए सदर अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन इंजेक्शन नहीं रहने के कारण अस्पताल परिसर में स्थित जन औषधि केंद्र में जब नकुल राम पहुंचे तो वहां पर मौजूद कर्मी से रेबीज इंजेक्शन की जानकारी ली।

उसके द्वारा बताया गया कि 160 रुपये में रेबीज का इंजेक्शन उपलब्ध है। वहीं सभी बातों से अनजान नकुल ने बेटे को इंजेक्शन दिलवा दिया। जैसे ही वह इंजेक्शन दिलाकर बच्चे को अपने घर ले जाने लगा तभी उसके एक जानकार ने उन्हें बताया कि यह इंजेक्शन कुत्ते को देने के लिए बनाया गया है न की आदम के लिए।

वहीं इस बात की जानकारी के बाद बच्चे के परिजन के होश उड़ गए। आनन-फानन में सदर अस्पताल पहुंचकर भारतीय जन औषधि केंद्र में जमकर हंगामा किया। जबकि बच्चे को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक ने पुष्टि करते हुए कहा कि कुत्ते को देने वाला इंजेक्शन बच्चे को दिया गया है।

एक्सपर्ट व्यू: पालतु कुत्ते को दिया जाता है इंजेक्शन

जब भास्कर की टीम ने पूरे मामले की जांच की और डयूटी पर तैनात चिकित्सक डाॅ. संजीव कुमार सिंह तथा डॉ. घनश्याम सुमन से मिलकर दवा का सैंपल दिखाया। दोनों चिकित्सक ने दवाई को देखते हुए उसके कंपोजिशन को गुगल पर सर्च कर बताया कि यह इंजेक्शन पालतू कुत्ते को एक निर्धारित समय पर दिया जाता है ताकि उसके काटने से इंसान पर कोई असर न हो। साथ ही इंसान को यदि इंजेक्शन लेने वाला कुत्ता काट भी लेता है तो वह रैबीज की बीमारी से बचा रहेगा। डाक्टरों ने बताया कि यह दवा अमूमन पशुओं के मेडिकल स्टोर में उपलब्ध रहता है। वैसे स्टॉकिस्ट के पास हो भी तो यह जन औषधि केन्द्र में पशु की दवा रखना भी गलत है। ]

बच्चे को यही इंजेक्शन कर्मी ने लगाया।
बच्चे को यही इंजेक्शन कर्मी ने लगाया।

मामला संज्ञान में आया है जांच कर होगी कार्रवाई
^बच्चे को कुत्ते को देने वाला इंजेक्शन दे देने का मामला संज्ञान में आया है। औषधि निरीक्षक को जांच की जिम्मेवारी दी गई है। जन औषधि केंद्र में यह सूई कहां से आई यह भी जांच का विषय है। जांच कर दोषी पाये जाने पर कार्रवाई की जाएगी।

-डॉ. विनय कुमार शर्मा, सिविल सर्जन, जमुई

बच्चे के परिजनों ने एसडीओ से लगाई गुहार
घटना के बाद बच्चे के परिजन एसडीओ कार्यालय पहुंचे और एसडीओ प्रतिभा रानी से मिलकर आरोपी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है। परिजनों ने कहा कि आरोपी केंद्र संचालक पर कानूनी कार्रवाई की जाए क्योंकि जन औषधि केंद्र में इंसानों की सूई के जगह कुत्ते को देने वाली सूई रखकर वह मनुष्य की जीवन के साथ खिलवाड़ कर रहा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें