पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना इफैक्ट:कोविड-19 मरीजों की दवा 5 दिन से स्टोर से गायब

जमुई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मरीजों को हो रही परेशानी, पटना सीएनएस कर्मी के पॉजिटिव पाए जाने के कारण हुई समस्या

कोरोना पॉजिटिव मरीजों के इलाज की दवाईयां बीते 5 दिन से मेडिकल स्टोर में उपलब्ध नहीं रहने के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ड्रग इंस्पेक्टर एवं वरीय उप समाहर्ता के सख्त तेवर के बाद मेडिकल स्टोर में दवा को उपलब्ध कराया गया। 5 दिनों से शहर के ज्यादातर मेडिकल स्टोर में कोरोना मरीजों के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाई एजिथरल 500 , लिम्सी सेलीन विटामिन सी, जिंक सहित अन्य दवा मेडिकल स्टोर में उपलब्ध नहीं होने के कारण मरीजों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। दवाई की उपलब्धता कम होने का फायदा कई दवा विक्रेताओं ने उठाया। जिनके पास यह दवा उपलब्ध थी उनके द्वारा इसकी कालाबाजारी की गई और उसे अधिक कीमत में बेचा गया। डीएम अवनीश कुमार सिंह ने एक टीम गठित कर दी। जिसमें ड्रग्स इंस्पेक्टर के के शर्मा तथा वरीय उप समाहर्ता भारती राज को इसकी जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। जिसके बाद शहर के विभिन्न मेडिकल स्टोर में पदाधिकारियों ने छापेमारी अभियान चलाया। इस छापेमारी में जिस मेडिकल स्टोर में खामियां पाई गई उन्हें पदाधिकारियों द्वारा सख्त हिदायत देते हुए कोरोना की पूरी दवा रखने और उचित मूल्य में आम लोगों को उपलब्ध कराने का सख्त निर्देश दिया गया। साथ ही निर्देश दिया गया कि यदि बिक्री मूल्य से अधिक राशि में उनके द्वारा बेचने की शिकायत मिलती है तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। वहीं जब इस संबंध में मेडिकल स्टोर के संचालक से बात की तो उन्होंने बताया कि पटना के सीएनएस कर्मी के पॉजिटिव पाए जाने के कारण कुछ दवाइयां 5 दिनों से जमुई नहीं पहुंच पा रही थी।

औषधि निरीक्षक ने की दवा दुकानों की जांच
अलीगंज| कोरोना संक्रमण के दौर में दवाओं की विशेष आवश्यकता है। दवा विक्रेताओं द्वारा अधिक कीमत व कालाबाजारी की शिकायत पर शुक्रवार की दोपहर औषधि निरीक्षक केके शर्मा ने अलीगंज प्रखंड क्षेत्र के दर्जनों मेडिकल दुकानों में पहुंचकर जांच की। औषधि निरीक्षक ने बताया कि दुकानदारों को ग्राहकों को उचित कीमत पर दवा दी जाय। किसी प्रकार से ग्राहकों का आर्थिक शोषण नहीं करने व कैश मेमो रसीद देने की बात कही। उन्होंने कहा कि अगर ग्राहकों के द्वारा शिकायत की जाती है तो संबंधित दुकानों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि इस समय कोरोना संक्रमण की बढ़ते प्रकोप को देखते हुए कुछ जगहों से दवा दुकानदारों के द्वारा की कालाबाजारी व उंचे कीमत पर दवा बिक्री की शिकायत मिल रही है। जिसको लेकर जिला प्रशासन द्वारा टीम गठन कर उसकी जांच की जा रही है। अलीगंज, चंद्रदीप, आढा, मिर्जागंज में दुकानों की निरीक्षण किया।

खबरें और भी हैं...