पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई:पुलिस बन झारखंड से बिहार लाई जा रही अवैध शराब लूटने वाले 7 लुटेरे गिरफ्तार

जमुई / बरहटएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मलयपुर थाने में जब्त शराब के साथ पुलिस। - Dainik Bhaskar
मलयपुर थाने में जब्त शराब के साथ पुलिस।
  • एक स्काॅर्पियो, पिकअप और कटौना गांव के एक घर से 119 पेटी शराब जब्त
  • पुलिस अधीक्षक ने कहा- जिस घर से मिली है शराब उस घर की होगी नीलामी

पुलिस ने गुरुवार की देर रात मलयपुर थानाक्षेत्र के गढ़वा कटौना गांव के एक घर से 119 पेटी शराब जब्त किया, साथ ही अवैध शराब तस्करी के मामले में गृहस्वामी और उसके पुत्र सहित सात लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने झारखंड नंबर की एक स्काॅर्पियो व एक पिकअप वाहन को भी जब्त किया है। पुलिस को गुरुवार की रात गुप्त सूचना मिली की झारखंड के शराब तस्कर धनबाद से सिकंदरा के इलाके में शराब की डिलिवरी देने जाने वाले हैं। पुलिस ने देर रात गढ़वा कटौना गांव की घेराबंदी कर छापेमारी अभियान चलाया। इस अभियान में पुलिस ने गढ़वा कटौना गांव निवासी अमरेंद्र सिंह उर्फ पप्पू सिंह के घर से 119 पेटी शराब जब्त किया। घर के अंदर एक लोहे के बक्से में शराब छिपाकर रखी गई थी। पुलिस ने अमरेंद्र सिंह एवं उसके पुत्र मनमोहन सिंह तथा रुद्र प्रताप सिंह के अलावे झारखंड के कतरास मोड़ झरिया के दिग्विजय सिंह उर्फ गोलू, मंझलाडीह धनबाद के वासुदेव साह, गोसांयडीह बैंक कॉलोनी गोबिंदपुर धनबाद के धीरज कुमार सिंह उर्फ छोटू सिंह, झरिया के अजय रमानी को गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि अजय रमानी ही 3 अप्रैल को झारखंड से शराब की खेप लेकर आ रहा था सभी आरोपियों के साथ मिलकर उक्त शराब की खेप की लूट को अंजाम देने के बाद अवैध शराब तस्कर को इसकी सूचना दी थी कि शराब को पुलिस ने जब्त कर लिया है।

तीन अप्रैल को पुलिस बनकर छोटू सिंह ने एनएच-333 पर लूटी था शराब
झारखंड के धनबाद जिला अंतर्गत गोबिंदपुर थाना के गोसांयडीह बैंक कॉलोनी निवासी धीरज कुमार सिंह उर्फ छोटू सिंह पुलिस बनकर बीते तीन अप्रैल को एनएच 333 पर मलयपुर बायपास के समीप से एक पिकअप वाहन से शराब की खेप को लूट लिया था। इस घटना में पिकअप वाहन चालक अजय कुमार रमानी भी संलिप्त था। जो छोटू व उसके गिरोह के अन्य सदस्यों के साथ मिलकर शराब का अवैध कारोबार करता था। बताया जाता है कि पिकअप वाहन पर शराब का खेप लेकर अजय रमानी खुद आ रहा था और उसने अपने धनबाद के शराब माफिया को पुलिस द्वारा शराब पकड़े जाने की सूचना दी थी। हालांकि मलयपुर पुलिस ने शराब जब्त नहीं करने की बात बताई थी। झारखंड के धनबाद जिला अंतर्गत गोबिंदपुर के थानाध्यक्ष सुरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि धीरज कुमार सिंह उर्फ छोटू फर्जी तरीके से कई बार लोगों को ठगी का शिकार भी बनाया है। कभी डीएसपी तो कभी सीआरपीएफ जवान बनकर वह लोगों को चुना लगाया है। हाल फिलहाल में वह शराब के धंधे में शामिल हो गया था।

पुलिस हिरासत में शराब तस्कर।
पुलिस हिरासत में शराब तस्कर।

पुलिस टीम को मिलेगा पुरस्कार: प्रमोद कुमार
एसपी प्रमोद कुमार मंडल ने बताया कि इस छापेमारी में शामिल टीम ने बहुत ही अच्छे तरीके से काम किया और सभी आरोपियों को भी गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। ऐसे में टीम के सभी सदस्य को पुरस्कृत किया जाएगा। साथ ही जिस घर से शराब की खेप मिली है उस घर की भी नीलामी की जाएगी। बता दें कि जिले में शराब की बरामदगी पर घर नीलामी की यह पहली घटना है। पुलिस की इस कार्रवाई से शराब माफिया में कार्रवाई का भय व्याप्त है। ज्ञात हो कि सख्त कार्रवाई की जरूरत है।

पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर डीआईयू की टीम ने की छापेमारी
शुक्रवार की सुबह जैसे ही एसपी को इस बात की जानकारी मिली वे डीआईयू टीम के प्रभारी एसआई राजवर्द्धन के नेतृत्व में मलयपुर थानाध्यक्ष के एएसआई संजय सिंह और अमृत तिग्गा, रितेश कुमार के अलावे बरहट थानाध्यक्ष चितरंजन कुमार सहित अन्य जवानों द्वारा गढ़वा कटौना गांव में छापेमारी की गई। एसडीपीओ डॉ. राकेश कुमार ने बताया कि छापेमारी में पुलिस ने एक स्कार्पियो की डिक्की से 11 कार्टन शराब बरामद किया। वहीं एक मालवाहक टेम्पो से 20 कार्टन सुपर गोल्ड व्हिस्की, बरामद हुआ। वहीं गढ़वा कटौना गांव निवासी अमरेंद्र सिंह उर्फ पप्पू सिंह के घर के प्रथम मंजिल पर एक ट्रंक (लोहे का बना बड़ा बक्सा) से 88 कार्टन शराब बरामद हुआ।

खबरें और भी हैं...