पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मनमानी:राजस्व कर्मचारी पर पैसे लेकर काम नहीं करने का लगा आरोप, संपत्ति जांच की मांग

जमुई16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 30 साल से एक ही जगह सीआई के पद पर जमे हैं जयकुमार

30 वर्षों से लखीसराय अंचल में कार्यरत राजस्व कर्मचारी सह सीआई जयकुमार का मामला धीरे धीरे तुल पकड़ रहा है। अब उनकी संपत्ति को ईडी से जांच कराए जाने के मांग जा रही है। लखीसराय अंचल में अंगद की तरह पैर जमाए 30 वर्षों से जमे राजस्व कर्मचारी सह सीआई जयकुमार के विरुद्ध लोगों के बीच उनके व्यवहार और कारनामा से उनके प्रति काफी आक्रोश व्याप्त है। राजस्व कर्मचारी जयकुमार प्रथम योगदान के बाद से 30 वर्षों से लगातार लखीसराय अंचल में कार्य कर रहे हैं। जिला प्रशासन द्वारा बीच-बीच में सूर्यगढ़ा और बड़हिया अंचल में स्थानांतरण कर दिया गया था लेकिन फिर भी कुछ माह के अंदर ही पुनः लखीसराय अंचल कार्यालय में योगदान कर मनमानी कर रहे हैं। जरूरतमंद लोगों को काम के बदले काफी परेशान करने की शिकायत है।

कई लोगों ने नाजायज राशि लेकर काम नहीं करने का आरोप लगाया है। मोटी रकम लेने के बावजूद भी वह कार्य करने में टालमटोल करते हैं। बालगुदर निवासी व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शत्रुघ्न सिंह और इसी गांव के मोहम्मद शफीद और अन्य लोगों ने बताया कि राजस्व कर्मचारी जयकुमार उनसे मोटी राशि लेने के बाद भी तीन वर्षों से काम करने के बदले वे टाल मटोल कर रहे हैं। उक्त दोनों नेताओं ने उनकी अवैध कमाई की संपत्ति को ईडी विभाग से जांच कराए जाने की मांग की है। जिले में नए पदाधिकारी के आने के बाद उनके द्वारा खूब खातिर किया जाता है। पैरवी और पैसे के बदौलत वे 30 वर्षों से अंचल कार्यालय लखीसराय में डंटे हुए हैं। जिले के चर्चित राजस्व कर्मचारी जयकुमार अपने पीछे चार लोगों को नाजायज राशि वसूलने के लिए लगाए हुए हैं। उनके द्वारा ही अब लोगों से राशि लिया जा रहा है।
सीआई ने आरोप को बताया बेबुनियाद
राजस्व कर्मचारी जयकुमार से इस संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि आरोप कुछ स्वार्थी लोगों ने लगाया है। यह आरोप बेबुनियाद और मनगढ़ंत है। लखीसराय के अंचलाधिकारी संजय कुमार ने बताया कि पूरे अंचल क्षेत्र में राजस्व कर्मचारी का काफी अभाव है।

खबरें और भी हैं...