पंचायत चुनाव:वाट्सएप और फेसबुक को प्रत्याशियों ने बनाया माध्यम

जमुई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पंचायत चुनाव के प्रचार में लगातार हो रहे पोस्ट

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर जिले के सभी दस प्रखंडों में प्रत्याशी इन दिनों अपने चुनाव का प्रचार प्रसार आधुनिक तरीके से कर रहे हैं। जहां प्रत्याशियों से लेकर समर्थक व प्रत्याशियों के नाते रिश्तेदार के लोग वोटरों को लुभाने के लिए अलग-अलग हथकंडे अपना रहे हैं। अपनी बात को जनता तक पहुंचाने के लिए वाट्सएप और फेसबुक का सहारा ले रहे हैं। कई लोगों का कहना है कि इस आधुनिकता के युग में पहली बार पंचायत चुनाव की प्रचार प्रसार को लेकर प्रत्याशी और उनके समर्थक व्हाट्सएप और फेसबुक पर सक्रिय दिख रहे हैं। क्योंकि जब भी मोबाइल खोला जाता है तो व्हाट्सएप ग्रुप और फेसबुक पर प्रत्याशियों का प्रचार प्रसार ही दिखाई देता है। अगर बात करें तो इस मामले में सबसे अधिक सक्रिय युवा है। क्योंकि हर युवा के पास आज के समय में एंड्राइड मोबाइल है। जिससे युवा अपने मोबाइल इंटरनेट के माध्यम से अपने-अपने प्रत्याशियों की फोटो एडिटर एप के द्वारा फोटो एडिट कर व्हाट्सएप और फेसबुक पर शेयर कर रहे हैं। जबकि कई ऐसे भी पुराने प्रत्याशी हैं जो अपने पांच साल पूर्व के कार्यों की फोटो खींचकर मतदाता तक पहुंचाने और उन्हें लुभाने में लगे हैं।

खबरें और भी हैं...