पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आयोजन:‘प्रारंभिक स्तर पर ही युवाओं को विभिन्न विधाओं का प्रशिक्षण देकर बनाया जाएगा हुनरमंद’

जमुई20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • छात्रों के काैशल विकास को लेकर समाहरणालय में बैठक, गजेंद्र बोले-

समाहरणालय स्थित संवाद कक्ष में डीडीसी आरिफ अहसन के निर्देश पर डीआरसीसी के तत्वाधान में एक बैठक हुई। बैठक का एजेंडा था कि प्लस टू के छात्र-छात्राओं का स्किल डेवलपमेंट किया जाए। इसको लेकर प्लस टू के सभी प्रधानाध्यापक को बैठक में बुलाया गया।

डीआरसीसी के मैनेजर गजेंद्र कुमार ने बताया कि सरकार की योजना है कि प्रारंभिक स्तर पर ही युवाओं को विभिन्न विधाओं का प्रशिक्षण दिया जाए। ताकि उनमें जो इच्छुक लोग है वे अपना समय बर्बाद न कर रोजगार प्राप्त कर सकें। उन्होंने बताया कि कक्षा ग्यारहवीं व बारहवीं के छात्र-छात्राएं स्कूल आने लगे हैं। इनमें से जो हुनरमंद बनने के इच्छुक है उनको प्रारंभिक स्तर पर ही प्रशिक्षण दिया जाए।

उन्होंने बताया कि इसके लिए सभी प्रधानाध्यापक को निर्देश दिया कि स्कूल आने वाले सभी छात्रों को इसकी जानकारी दे दी जाए तथा इच्छुक छात्र-छात्रा को समीपवर्ती काैशल विकास केन्द्र पर प्रशिक्षण दिया जाए। उन्होंने बताया कि जिले में कुल 25कौशल विकास केन्द्र हैं जिसमें से सभी प्रखंड के ब्लाक स्किल डेवलपमेंट सेंटर है जबकि 15 स्किल डेवलपमेंट सेंटर है। इनमें से हर एक की क्षमता 120 छात्रों की है जिसे तीन पाली में चलाया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि अभी कोरोना काल है इसलिए हर केन्द्र की क्षमता का आधी क्षमता का उपयोग किया जाएगा। मौके पर श्रम अधीक्षक पूनम कुमारी, डीआरसीसी के मैनेजर गजेंद्र कुमार व सभी प्लस टू उच्च विद्यालय के प्राचार्य उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...