कोरोना का कहर / हाई रिस्क जोन भछियार की महिलाओं में कम्युनिटी चेन से कोरोना संक्रमण, 6 पॉजिटिव, संख्या हुई 79

शहर के भछियार मोहल्ले में लोग बेरोकटोक कर रहे आवाजाही, न सोशल डिस्टेंस और न ही मास्क का कर रहे हैं उपयोग। शहर के भछियार मोहल्ले में लोग बेरोकटोक कर रहे आवाजाही, न सोशल डिस्टेंस और न ही मास्क का कर रहे हैं उपयोग।
X
शहर के भछियार मोहल्ले में लोग बेरोकटोक कर रहे आवाजाही, न सोशल डिस्टेंस और न ही मास्क का कर रहे हैं उपयोग।शहर के भछियार मोहल्ले में लोग बेरोकटोक कर रहे आवाजाही, न सोशल डिस्टेंस और न ही मास्क का कर रहे हैं उपयोग।

  • जिले में प्रवासियों से फैला कोरोना अब कम्युनिटी चेन से लोगों को कर रहा आक्रांत
  • कल्याणपुर में भी मिली थी एक महिला मरीज, सोशल डिस्टेंसिंग से लोग करने लगे हैं परहेज
  • भछियार मोहल्ले के 63 संदिग्धों की सैंपल जांच को भेजा जिसमें एक अन्य महिला पॉजिटिव आई

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

जमुई. शहरी इलाके में कोरोना के सामुदायिक संक्रमण का चेन महिलाओं को अपने चपेट में ले रहा है। अब तक शहरी इलाके के तीन मोहल्ले सील किए जा चुके है, लेकिन भछियार मोहल्ले में कोरोना का चेन बढ़ता ही जा रहा है। हाई रिस्क जोन घोषित भछियार मोहल्ले में पहले एक मछली व्यवसायी कोरोना पॉजिटिव पाया गया। इसके बाद एक साथ आठ मरीजों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई। जिसमें एक 12 साल की बच्ची सहित कुल पांच महिलाएं हैं। 
स्वास्थ्य विभाग ने भछियार मोहल्ले के 63 संदिग्ध लोगों की सैंपल जांच के लिए भेजा जिसमें एक अन्य महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। विभाग ने इस पर चिंता जाहिर की है। जिला स्वास्थ्य समिति के प्रबंधक सुधांशु नारायण लाल ने बताया कि भछियार मोहल्ले में अब कोरोना का कम्युनिटी चेन बन गया है। कई अन्य भी संक्रमण की चपेट में आ सकते हैं। विभाग ने भछियार मोहल्ले में दो सौ लोगों का सैंपल लेने का निर्णय लिया है ताकि कम्युनिटी चेन तोड़ा जा सके। बता दें कि इसके पहले कल्याणपुर मोहल्ले की एक महिला भी कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी। शहरी इलाके में अबतक जितने भी कोरोना पॉजेटिव मरीज मिले है उनमें से महिलाओं का कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है।
पॉजिटिव मरीज नहीं मान रहे अपने को बीमार, कोविड केंद्र जाने का विरोध
शहर के भछियार मोहल्ले में कोरोना पॉजेटिव कम्युनिटी चेन बनने के बाद स्वास्थ्यविभाग की चिंता बढ़ गई है। तो दूसरी तरफ संक्रमित मरीज अपने को बीमार नहीं मान रहे हैं। एक सप्ताह में दस लोगों के संक्रमित होने के बाद स्वास्थ्य विभाग को मरीजों को कोविड केयर सेंटर भेजने में काफी जद्दोजहद उठानी पड़ी। दरअसल संक्रमित मरीज में कोरोना के लक्षण नहीं पाए जाने से यह स्थिति बनी है। इधर कोरोना पॉजेटिव मछली व्यवसायी के एक सप्ताह में रिकवर होने के बाद लोगों में कोराेना के प्रति जो भय व्याप्त था, वह कम हुआ है। भछियार मोहल्ले के महिला संक्रमित मरीज अपने को बीमार न मानकर इसे स्वास्थ्य विभाग का खेल मान रही है। दो दिन पहले कोरोना पॉजेटिव आई महिला को कोविड सेंटर भेजने में स्वास्थ्य विभाग के पसीने छूट गए। इसी प्रकार लखीसराय-जमुई सीमा क्षेत्र के एक संक्रमित बैंक कर्मी भी कोविड सेंटर जाने को तैयार नहीं हुआ तो स्वास्थ्य विभाग को प्रशासन का सहयोग लेना पड़ा।
संक्रमण का चेन खतरनाक
शहरी इलाके में बिना ट्रेवल हिस्ट्री वाले संक्रमित मरीज का मिलना चिन्ता है। भछियार मोहल्ले में एक बच्ची सहित छह महिलाएं संक्रमित मिली हैं। इस इलाके में एहतियात बरतना आवश्यक हो गया है। चूंकि यहां कोरोना का कम्युनिटी चेन बन गया है। पूरे भछियार मोहल्ले में सैंपल लिया जाएगा ताकि कोरोना का चेन तोड़ा जा सके।
-सुधांशु लाल, डीपीएम, जमुई

चिंताजनक: भछियार हाई रिस्क जोन में, फिर भी बरती जा रही लापरवाही
शहर का भछियार मोहल्ला हाई रिस्क होने के बावजूद इस इलाके के व्यवसायी अथवा स्थानीय लोग कोरोना से बचाव को लेकर मास्क का प्रयोग और सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं कर रहे हैं। कई जगहों पर दुकानों में लोगों की भीड़ लगी रहती है जो बड़ा खतरा बन सकता है। प्रशासन ने मछली व्यवसायी के संक्रमित होने के बाद उसके घर को जाने वाली गली को सील कर दिया। लेकिन अन्य आठ संक्रमित के घर के इलाके में अब भी लोगों का आना जाना जारी है। साथ ही संक्रमित इलाके के लोग भी बेपरवाह होकर बिना सुरक्षा बाजार में खरीदारी कर रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा एहतियात बरतने की अपील का लोगों पर असर नहीं दिख रहा है। भछियार चौक पर चाय पान व किराने की दुकान पर लोगों की भीड़ व सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं करना घातक हो सकता है। जबकि यह इलाका हाई रिस्क जोन बना है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना