वारदात / पत्नी कर रही थी पति के दीर्घायु के लिए वट सावित्री व्रत, इधर पति व सास की चचेरे भाई ने कर दी हत्या

Wife was doing vat Savitri fast for husband's longevity, here husband and mother-in-law's cousin murdered
X
Wife was doing vat Savitri fast for husband's longevity, here husband and mother-in-law's cousin murdered

  • अलीगंज प्रखंड के चंद्रदीप थाना क्षेत्र अंतर्गत छितयैनी गांव की घटना
  • एक डिसमिल जमीन के लिए दो साल से चल रहा है विवाद
  • पहले हसुली से किया प्रहार, फिर लाठी-डंडे से पीटकर मार डाला, सुबह करीब 8:30 बजे की घटना

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:06 AM IST

जमुई/ अलीगंज. महज एक डिसमिल जमीन के लिए चचेरे भाई व उसके परिजनों ने मिलकर चाची व चचेरे भाई की पीट-पीट कर हत्या कर दी। उसकी 12 वर्षीय पुत्री को गंभीर रूप से घायल कर दिया। घटना अलीगंज प्रखंड के चंद्रदीप थानाक्षेत्र अंतर्गत छितयैनी गांव की है। घर के पास के 1 डिसमिल जमीन को लेकर नगीना पासवान व उसके चचेरे भाइयों के बीच पिछले 2 वर्षों से विवाद चला आ रहा था।

इसी विवाद में शुक्रवार की सुबह तकरीबन 8:30 बजे जब नगीना चौधरी(35 वर्ष) अपने घर के बाहर बैठा था तभी चचेरे भाई मकेश्वर चौधरी, रोहित चौधरी, भाभी शोभा देवी, शान्ति देवी, बसंती देवी सहित अन्य परिजनों के द्वारा पहले तो नगीना चौधरी पर हसुली से प्रहार किया और फिर लाठी-डंडे से पीटने लगा। सभी बेरहमी से नगीना चौधरी को तबतक पीटते रहे जबतक की उसकी मौत न हो गई। इस घटना में नगीना ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।

पुत्री व मां को भी किया घायल, इलाज के दौरान मां की मौत, बेटी अस्पताल में भर्ती

भतीजे व उसके परिजनों द्वारा अपने पुत्र की पिटाई होता देख नगीना को बचाने उसकी मां अनखा देवी(60 वर्ष) और बेटी अंजली कुमारी घर से बाहर आई। लेकिन उन लोगों द्वारा अनखा देवी व अंजली की भी जमकर पिटाई कर दी। मारपीट की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल अनखा देवी व अंजली कुमारी को इलाज के लिए अलीगंज अस्पताल लाया जहां प्रारंभिक इलाज के बाद दोनों की हालत को गंभीर देखते हुए बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल रेफर कर दिया। इधर, गंभीर चोट लगने के कारण सदर अस्पताल में इलाज के दौरान अनखा देवी की भी मौत हो गई। जबकि अंजली जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही है।

चचेरे भाइयों ने अपने पिता की मौत का लिया बदला, जेल से छूटते ही मार डाला

बताया जाता है कि दो वर्ष पूर्व इसी एक डिसमिल जमीन के विवाद में नगीना चौधरी ने अपने चाचा बनारसी चौधरी की हत्या कर दी थी। इस हत्या के आरोप में नगीना चौधरी को सजा भी हुई थी। बेल पर छूटकर नगीना घर आया था। इसी बात से बदले की भावना में उसके चचेरे भाई व उसके परिजनों ने नगीना चौधरी की पीट-पीट कर हत्या कर दी। कुछ स्थानीय लोगों ने बताया कि हत्या जमीनी विवाद के साथ-साथ बदले की भावना से भी हुई है। क्योंकि दो वर्ष पूर्व नगीना चौधरी के द्वारा ही बनारसी चौधरी की हत्या की गई थी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना